Home   »   Intellectual Property Rights in India: Types of Intellectual Property Rights   »   दूरसंचार क्षेत्र में आईपीआर को प्रोत्साहित...

दूरसंचार क्षेत्र में आईपीआर को प्रोत्साहित करने हेतु रोडमैप

दूरसंचार क्षेत्र में आईपीआर: प्रासंगिकता

  • जीएस 3: बौद्धिक संपदा अधिकारों से संबंधित मुद्दे।

दूरसंचार क्षेत्र में आईपीआर को प्रोत्साहित करने हेतु रोडमैप_40.1

दूरसंचार क्षेत्र में आईपीआर: संदर्भ

  • हाल ही में, दूरसंचार विभाग दूरसंचार क्षेत्र में बौद्धिक संपदा अधिकारों को प्रोत्साहित करने हेतु एक रणनीति रोड मैप पर चर्चा कर रहा है।

 

दूरसंचार क्षेत्र में आईपीआर: प्रमुख बिंदु

  • रोडमैप में सॉवरेन पेटेंट फंड एवं भारत टेक्नोलॉजी बैंक की स्थापना सम्मिलित हो सकती है।
  • रोडमैप में पेटेंट प्राप्त करने में होने वाले दीर्घ विलंब को कम करने के उपाय भी सम्मिलित होंगे।
  • विभाग डिजिकॉम बौद्धिक संपदा प्रबंधन बोर्ड के गठन के प्रस्ताव पर भी विचार कर रहा है।
    • डिजिकॉम बौद्धिक संपदा प्रबंधन बोर्ड दूरसंचार क्षेत्र में आईपीआर अनुज्ञप्ति (लाइसेंसिंग) एवं आईपी प्रबंधन की सुविधा प्रदान करेगा।

 

दूरसंचार क्षेत्र में आईपीआर: रोडमैप का महत्व

  • दूरसंचार क्षेत्र में आईपीआर को प्रोत्साहित करने हेतु एक रोडमैप लंबे समय से लंबित है क्योंकि भारत को अमेरिका में 1-2 वर्ष तथा चीन में 3 वर्ष की तुलना में दूरसंचार पेटेंट  प्रदान करने में 5-8 वर्ष लगते हैं। 
  • यह दूरसंचार उपकरणों के लिए वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में भारत की हिस्सेदारी में वृद्धि कर सकता है, जो वर्तमान में 1 प्रतिशत से भी कम है।

 

बौद्धिक संपदा अधिकार का अर्थ 

  • बौद्धिक संपदा अधिकार (आईपीआर) विनीत अधिकार हैं जो औद्योगिक, वैज्ञानिक, साहित्यिक  अथवा कलात्मक क्षेत्रों में बौद्धिक गतिविधि के परिणामस्वरूप कृतियों एवं/या आविष्कारों की रक्षा करते हैं।
  • बौद्धिक संपदा अधिकार उन सूचनाओं एवं विचारों के उपयोग की रक्षा करते हैं जो रचनाकारों के लिए महत्वपूर्ण हैं।
  • बौद्धिक संपदा अधिकार शब्द में व्यक्तियों को उनके मस्तिष्क की रचनाओं पर दिए गए अधिकार शामिल हैं। वे आमतौर पर निर्माता को एक निश्चित अवधि के लिए उसकी रचना के उपयोग पर एक विशेष अधिकार प्रदान करते हैं।
  • सर्वाधिक आम आईपीआर में पेटेंट, कॉपीराइट, चिन्ह एवं व्यापार रहस्य शामिल हैं।
  • बौद्धिक संपदा अधिकार के उदाहरण: कोई भी औद्योगिक या कॉपीराइट रचनाएं।

 

बौद्धिक संपदा अधिकारों के प्रकार

कॉपीराइट

  • कॉपीराइट एक विधिक शब्द है जिसका उपयोग उन अधिकारों का वर्णन करने के लिए किया जाता है जो रचनाकारों को उनके साहित्यिक  एवं कलात्मक रचनाओं पर प्राप्त  होते हैं।
  • कॉपीराइट कवर: पुस्तकें, संगीत, चित्रकला, मूर्तिकला तथा फिल्मों से लेकर, कंप्यूटर प्रोग्राम, डेटाबेस, विज्ञापन, नक्शे  एवं तकनीकी ड्राइंग।

 

पेटेंट

  • एक पेटेंट एक आविष्कार के लिए प्रदान किया गया एक विशेष अधिकार है।
  • एक पेटेंट पेटेंट स्वामित्व धारी को यह  निर्धारित करने का अधिकार प्रदान करता है कि आविष्कार का उपयोग दूसरों द्वारा किस प्रकार किया जा सकता है
  • इस अधिकार के बदले में, पेटेंट स्वामित्व धारी आविष्कार के बारे में तकनीकी जानकारी प्रकाशित पेटेंट दस्तावेज़ में सार्वजनिक रूप से उपलब्ध कराता है।

 

ट्रेडमार्क

  • एक ट्रेडमार्क एक संकेत है जो एक उद्यम की वस्तुओं अथवा सेवाओं को अन्य उद्यमों से पृथक करने में सक्षम है।
  • ट्रेडमार्क प्राचीन काल से अस्तित्व में हैं जब कारीगर अपने उत्पादों पर अपने हस्ताक्षर याचिह्न लगाते थे।

दूरसंचार क्षेत्र में आईपीआर को प्रोत्साहित करने हेतु रोडमैप_50.1

भौगोलिक संकेतक

  • भौगोलिक संकेतक एवं उत्पत्ति के नाम ऐसे संकेत हैं जिनका उपयोग उन वस्तुओं के लिए किया जाता है जिनकी एक विशिष्ट भौगोलिक उत्पत्ति होती है तथा जिनके पास गुण, प्रतिष्ठा अथवा विशेषताएं होती हैं जो मूल रूप से उस स्थान के कारण होती हैं।
  • आमतौर पर, एक भौगोलिक संकेतक में वस्तुओं की उत्पत्ति के स्थान का नाम सम्मिलित होता है। उदाहरण के लिए: दार्जिलिंग चाय, तेजपुर लीची, कश्मीर केसर इत्यादि।

 

व्यापार रहस्य

  • व्यापार रहस्य गोपनीय सूचनाओं से संबंधित बौद्धिक संपदा अधिकार हैं जिन्हें विक्रय किया अथवा लाइसेंस प्राप्त किया जा सकता है।
  • इस तरह की गुप्त सूचनाओं का अनधिकृत अधिग्रहण, उपयोग अथवा प्रकटीकरण दूसरों द्वारा न्यायार्जित वाणिज्यिक पद्धतियों के विपरीत एक अनुचित व्यवहार तथा व्यापार गुप्त सुरक्षा का उल्लंघन माना जाता है।

 

संपादकीय विश्लेषण: फूड वैक्सीन सही है, टीबी के मरीजों के लिए और भी बहुत कुछ रक्षा उत्कृष्टता के लिए नवाचार (iDEX) पहल प्रधानमंत्री संग्रहालय | प्राइम मिनिस्टर म्यूजियम ‘विश्व के वृक्षों का शहर’ विश्व का टैग
सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज: परिभाषा, वर्तमान स्थिति एवं सिफारिशें राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान (आरजीएसए) | आरजीएसए विस्तारित की संशोधित योजना संपादकीय विश्लेषण- विकास की पीड़ा  गैर संक्राम्य रोगों (एनसीडी) पर वैश्विक समझौता
भारत 300 GW सौर ऊर्जा लक्ष्य प्राप्ति में विफल हो सकता है सहकारिता नीति पर राष्ट्रीय सम्मेलन ऑक्सफैम ने ‘फर्स्ट  क्राइसिस, दैन कैटास्ट्रोफे’ रिपोर्ट जारी की यूनिवर्सल बेसिक इनकम: परिभाषा, लाभ एवं हानि 
Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.