Home   »   ‘ZAPAD 2021’ Exercise   »   Exercise EKUVERIN

एकुवेरिन अभ्यास

एकुवेरिन अभ्यास-  यूपीएससी परीक्षा हेतु प्रासंगिकता

  • जीएस पेपर 2: अंतर्राष्ट्रीय संबंध- द्विपक्षीय, क्षेत्रीय एवं वैश्विक समूह तथा भारत से जुड़े एवं / या भारत के हितों को प्रभावित करने वाले समझौते।

एकुवेरिन अभ्यास_40.1

 

एकुवेरिन अभ्यास- प्रसंग

  • भारत एवं मालदीव के मध्य एकुवेरिन अभ्यास का 11 वां संस्करण 06 से 19 दिसंबर 2021 तक मालदीव के कढधू द्वीप में आयोजित किया जाएगा।
    • 2019 में महाराष्ट्र के पुणे के औंध मिलिट्री स्टेशन में संयुक्त सैन्य अभ्यास एकुवेरिन के 10वें संस्करण का आयोजन किया गया था।

11वां एकुवेरिन अभ्यास- प्रमुख बिंदु

  • प्रमुख उद्देश्य: एकुवेरिन अभ्यास से दोनों राष्ट्रों के सशस्त्र बलों के मध्य निम्नलिखित के संदर्भ में सामंजस्य एवं अंतर-संचालन को बढ़ाने की संभावना है-
    • जमीन एवं समुद्र दोनों पर पारराष्ट्रीय आतंकवाद को समझना,
    • आतंकवाद विरोधी एवं विद्रोह विरोधी कार्रवाइयों (काउंटर टेररिज्म एंड काउंटर इंसर्जेंसी ऑपरेशंस) का संचालन करना एवं
    • सर्वोत्तम सैन्य अभ्यासों एवं अनुभवों को साझा करना।
  • प्रमुख गतिविधियां: कठोर प्रशिक्षण के अतिरिक्त, संयुक्त एकुवेरिन सैन्य अभ्यास में रक्षा सहयोग एवं द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ाने के लिए सांस्कृतिक तथा खेल गतिविधियां भी सम्मिलित होंगी।

एकुवेरिन अभ्यास

  • एकुवेरिन अभ्यास के बारे में: एकुवेरिन अभ्यास 2009 से भारत एवं मालदीव के मध्य 14 दिनों का संयुक्त सैन्य अभ्यास है।
    • एकुवेरिन अभ्यास का अर्थ: एकुवेरिन का अर्थ मालदीवियन भाषा (धिवेही भाषा) में ‘मित्र’  होता है।
    • संयुक्त सैन्य अभ्यास एकुवेरिन भारत एवं मालदीव में एकान्तरतः (वैकल्पिक) रूप से आयोजित किया जाता है।
  • भागीदारी: अभ्यास एकुवेरिन भारतीय सेना एवं मालदीव राष्ट्रीय रक्षा बल के मध्य आयोजित किया जाता है।
  • अधिदेश: एकुवेरिन अभ्यास संयुक्त राष्ट्र के अधिदेश के तहत एक अर्ध-शहरी वातावरण में विद्रोह विरोधी एवं आतंकवाद विरोधी अभियानों को संचालित करने हेतु दो सैन्य बलों के मध्य अंतर प्रचालनीयता को बढ़ाने पर केंद्रित है।
  • महत्व: भारत मालदीव के साथ अत्यंत निकटस्थ जातीय, भाषाई, सांस्कृतिक, धार्मिक एवं वाणिज्यिक संबंध साझा करता है तथा एकुवेरिन अभ्यास दोनों देशों के मध्य इन संबंधों को और सुदृढ़ करने में सहायता करेगा।
    • हिंद महासागर क्षेत्र में उभरती सुरक्षा गतिशीलता के मध्य एकुवेरिन अभ्यास मालदीव के साथ भारत के संबंधों को   सुदृढ़ करने में एक लंबा सफर तय करेगा।

 

सामुद्रिक अभ्यास साइटमेक्स- 21 मालाबार अभ्यास आईएनएस वेला- स्कॉर्पीन श्रेणी की चौथी पनडुब्बी क्रिवाक या तलवार स्टील्थ फ्रिगेट्स
शांतिपूर्ण मिशन अभ्यास 2021 ‘ज़ापद 2021’ अभ्यास हल्का लड़ाकू विमान (एलसीए) तेजस-एमके 2  ऑपरेशन संकल्प
संपादकीय विश्लेषण: एलपीजी की ऊंची कीमतें वायु प्रदूषण की लड़ाई को झुलसा रही हैं जलवायु परिवर्तन के लिए पेरिस समझौता विश्व असमानता रिपोर्ट 2022 संपादकीय विश्लेषण- आंगनबाड़ियों को पुनः खोलने की आवश्यकता

 

 

 

Sharing is caring!