UPSC Exam   »   Operation Sankalp

ऑपरेशन संकल्प

ऑपरेशन संकल्प- यूपीएससी परीक्षा हेतु प्रासंगिकता

  • जीएस पेपर 3: सुरक्षा- सीमावर्ती क्षेत्रों में सुरक्षा चुनौतियां एवं उनका प्रबंधन; विभिन्न सुरक्षा बल तथा एजेंसियां एवं उनका अधिदेश।

ऑपरेशन संकल्प_40.1

क्या आपने यूपीएससी सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2021 को उत्तीर्ण कर लिया है?  निशुल्क पाठ्य सामग्री प्राप्त करने के लिए यहां रजिस्टर करें

ऑपरेशन संकल्प- संदर्भ

  • आईएनएस त्रिकंद वर्तमान में ऑपरेशन संकल्प के हिस्से के रूप में फारस की खाड़ी एवं ओमान की खाड़ी में तैनात है।

ऑपरेशन संकल्प- प्रमुख बिंदु

  • ऑपरेशन संकल्प के बारे में: 2019 में ईरान एवं अमेरिका के मध्य तनाव के बीच ओमान की खाड़ी में तेल टैंकर जलपोतों में विस्फोट होने के बाद ऑपरेशन संकल्प प्रारंभ किया गया था।
    • तब से, भारतीय नौसेना के एक जहाज को एक अन्तर्निहित हेलीकॉप्टर के साथ उत्तर-पश्चिम अरब सागर, ओमान की खाड़ी एवं फारस की खाड़ी में लगातार तैनात किया गया है।
  • ऑपरेशन संकल्प का अधिदेश: ऑपरेशन संकल्प भारतीय नौसेना का प्रयास है कि वह व्यापार के सुरक्षित एवं संरक्षित आवागमन को सुनिश्चित करने, समुद्री समुदाय में विश्वास उत्पन्न करने एवं क्षेत्रीय सामुद्रिक सुरक्षा में योगदान करने हेतु इस क्षेत्र में एक अग्रिम पंक्ति के जलपोत को बनाए रखे।
  • ऑपरेशन संकल्प का महत्व: भारतीय नौसेना के ऑपरेशन संकल्प ने खाड़ी क्षेत्र में औसतन 16 भारतीय प्रस्तारिक (ध्वज वाले) व्यापारिक जलपोतों को प्रतिदिन सुरक्षित मार्ग प्रदान किया है।
  • आईएनएस त्रिकंद के बारे में: आईएनएस त्रिकंद एक अत्याधुनिक लक्षित प्रक्षेपास्त्र अप्रकाशित युद्धपोत (गाइडेड मिसाइल स्टील्थ फ्रिगेट) है एवं पश्चिमी बेड़े का हिस्सा है जो मुंबई स्थित पश्चिमी नौसेना कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ के अधीन संचालित होता है।

ऑपरेशन संकल्प_50.1

ऑपरेशन संकल्प: ऑपरेशन संकल्प की आवश्यकता

  • ऊर्जा निर्भरता: भारत अपनी तेल की मांग की पूर्ति हेतु लगभग 85% आयात पर निर्भर है।
    • जिसमें से, 2019-2020 में, भारत के लगभग 66 बिलियन डॉलर मूल्य के तेल आयात का लगभग 62% खाड़ी क्षेत्र से आया था।
  • व्यापार निर्भरता: 2019-20 में, इस क्षेत्र से भारत का निर्यात एवं आयात क्रमशः 51 बिलियन डॉलर एवं 2 बिलियन डॉलर थे।
    • ये भारत के कुल निर्यात एवं आयात का क्रमशः 1% एवं 11.4% गठित करते हैं,
  • सुरक्षा संबंधी चिंताएं: ऑपरेशन संकल्प फारस की खाड़ी एवं ओमान की खाड़ी में भारत के व्यापारिक समुद्र की सुरक्षा सुनिश्चित करता है।
    • ऑपरेशन संकल्प भारत को एक रणनीतिक द्विपक्षीय संबंध स्थापित करने एवं क्षेत्र में सामुद्रिक सुरक्षा बढ़ाने में भी सहायता प्रदान करेगा।
आईएनएस वेला- स्कॉर्पीन श्रेणी की चौथी पनडुब्बी मिशन समुद्रयान क्रिवाक या तलवार स्टील्थ फ्रिगेट्स सामुद्रिक अभ्यास साइटमेक्स- 21
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद: सामुद्रिक सुरक्षा वर्धन पाकिस्तान द्वारा भारतीय मछुआरे की गोली मारकर हत्या आईसीजीएस विग्रह मालाबार अभ्यास
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद: यूएनएससी की संरचना, कार्यप्रणाली एवं भारतीय आस्थिति राज्य ऊर्जा दक्षता सूचकांक (एसईईआई) 2020 जी 7 द्वारा प्रतिपादित डिजिटल व्यापार सिद्धांत व्यापार एवं विकास रिपोर्ट 2021

 

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *