UPSC Exam   »   Sydney Dialogue

सिडनी डायलॉग

सिडनी डायलॉग- यूपीएससी परीक्षा हेतु प्रासंगिकता

  • जीएस पेपर 2: अंतर्राष्ट्रीय संबंध- द्विपक्षीय, क्षेत्रीय एवं वैश्विक समूह तथाभारत से जुड़े एवं / या भारत के हितों को प्रभावित करने वाले समझौते।

सिडनी डायलॉग- प्रसंग

  • हाल ही में, भारत के प्रधानमंत्री ने सिडनी डायलॉग में एक मुख्य भाषण दिया। सिडनी डायलॉग में उन्होंने भारत के प्रौद्योगिकी विकास एवं क्रांति पर बात की।
    • प्रधानमंत्री के सिडनी संवाद भाषण से पूर्व ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री, श्री स्कॉट मॉरिसन द्वारा परिचयात्मक बयान दिया गया था।

सिडनी डायलॉग_40.1

क्या आपने यूपीएससी सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2021 को उत्तीर्ण कर लिया है?  निशुल्क पाठ्य सामग्री प्राप्त करने के लिए यहां रजिस्टर करें

सिडनी डायलॉग- भाषण की मुख्य विशेषताएं

  • सिडनी डायलॉग में, उन्होंने भारत प्रशांत (इंडो पैसिफिक) क्षेत्र एवं उदीयमान डिजिटल विश्व में भारत की केंद्रीय भूमिका के लिए मान्यता का उल्लेख किया।
  • सिडनी डायलॉग में डिजिटल युग के लाभों पर टिप्पणी करते हुए, उन्होंने कहा कि विश्व समुद्र तल से लेकर साइबर से लेकर अंतरिक्ष तक विभिन्न खतरों में नए जोखिमों एवं संघर्षों के नए रूपों का भी सामना कर रहा है।
  • सिडनी संवाद में पीएम ने कहा कि लोकतंत्र की सबसे बड़ी शक्ति उदारता है। साथ ही हमें कुछ निहित स्वार्थों को इस उदारता का दुरुपयोग नहीं करने देना चाहिए।
  • भारत की डिजिटल क्रांति: सिडनी संवाद में, पीएम ने कहा कि, एक लोकतंत्र एवं एक डिजिटल नेतृत्वकर्ता के रूप में, भारत साझा समृद्धि एवं सुरक्षा हेतु भागीदारों के साथ कार्य करने के लिए तैयार है।
    • भारत की डिजिटल क्रांति हमारे लोकतंत्र, हमारी जनसांख्यिकी एवं हमारी अर्थव्यवस्था के सोपान में निहित है।
    • यह हमारे युवाओं के उद्यम एवं नवाचार द्वारा संचालित है। हम अतीत की चुनौतियों को भविष्य में छलांग लगाने के अवसर में परिवर्तित कर रहे हैं। 
  • भारत में हो रहे महत्वपूर्ण विकास:
    • भारत 5जी एवं 6जी जैसी दूरसंचार प्रौद्योगिकी में स्वदेशी क्षमताओं के विकास में निवेश कर रहा है।
    • भारत कृत्रिम प्रज्ञान (आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस) एवं यांत्रिक अभिगम (मशीन लर्निंग) में विशेष रूप से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के मानव-केंद्रित एवं नैतिक उपयोग के क्षेत्र में अग्रणी देशों में से एक है।
    • भारत क्लाउड प्लेटफॉर्म एवं क्लाउड कंप्यूटिंग में सुदृढ़ क्षमता विकसित कर रहा है।
  • सिडनी डायलॉग में, भारत के प्रधानमंत्री ने भारत में हो रहे पांच परिवर्तनों पर प्रकाश डाला। वे हैं –
  1. भारत में विश्व का सर्वाधिक विस्तृत सार्वजनिक सूचना अवसंरचना निर्मित किया जा रहा है।
    1. 3 अरब से अधिक भारतीयों के पास एक विशिष्ट डिजिटल पहचान है, छह लाख गांव जल्द ही ब्रॉडबैंड एवंविश्व के सर्वाधिक सक्षम भुगतान बुनियादी ढांचे, यूपीआई से जुड़ेंगे।
  2. शासन, समावेश, सशक्तिकरण, संपर्क, लाभ वितरण एवं कल्याण के लिए डिजिटल प्रौद्योगिकी का उपयोग।
  3. भारत के पास विश्व का तीसरा सर्वाधिक वृहद एवं सर्वाधिक तीव्र गति से वृद्धि करने वाला स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र है।
  4. भारत के उद्योग एवं सेवा क्षेत्र, यहां तक ​​कि कृषि भी व्यापक पैमाने पर डिजिटल परिवर्तन के दौर से गुजर रहे हैं।
  5. भारत को भविष्य के लिए तैयार करने का बड़ा प्रयास हो रहा है

 सिडनी डायलॉग_50.1

सिडनी डायलॉग – प्रमुख बिंदु

  • सिडनी डायलॉग के बारे में: सिडनी डायलॉग विश्व में विधि एवं व्यवस्था की स्थिति पर डिजिटल डोमेन के नतीजों पर चर्चा करने के लिए साइबर एवं महत्वपूर्ण प्रौद्योगिकियों का एक वार्षिक शिखर सम्मेलन है।
    • इसकी मेजबानी ऑस्ट्रेलियन स्ट्रेटेजिक पॉलिसी इंस्टीट्यूट द्वारा की जाती है- एक स्वतंत्र, गैर-पक्षपाती थिंक टैंक जो ऑस्ट्रेलियाई एवं वैश्विक नेताओं के लिए विशेषज्ञ एवं समय पर सलाह उपलब्ध कराता है।
  • सिडनी डायलॉग 2021: सिडनी डायलॉग 2021 उदीयमान, महत्वपूर्ण एवं साइबर प्रौद्योगिकियों के लिए विश्व का प्रथम शिखर सम्मेलन है।
    • उद्घाटनात्मक सिडनी डायलॉग शिखर सम्मेलन की मेजबानी वस्तुतः सिडनी, ऑस्ट्रेलिया में 17-19 नवंबर 2021 को की गई थी।

 

ऑपरेशन संकल्प यूएनडब्ल्यूटीओ ने पोचमपल्ली गांव को विश्व के सर्वश्रेष्ठ पर्यटन गांवों में से एक के रूप में मान्यता दी डिजिटल ऋण पर आरबीआई कार्य समूह की रिपोर्ट भारत में एलपीजी सुधार
पीएम एक्शन प्लान: 60 सूत्री कार्य योजना पीएम गति शक्ति महायोजना पीएम मित्र योजना प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना पुर्नोत्थान
चीन में आर्थिक मंदी वैश्विक विनिर्माण जोखिम सूचकांक उत्पादन सहलग्न प्रोत्साहन योजना भारत निर्यात पहल

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.
Was this page helpful?

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *