UPSC Exam   »   Elderly Population Of India: Expert Committee On Longevity Finance   »   राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई)

राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई)

राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई) – यूपीएससी परीक्षा के लिए प्रासंगिकता   

  • जीएस पेपर 2: शासन, प्रशासन एवं चुनौतियां- केंद्र तथा राज्यों द्वारा आबादी के कमजोर वर्गों के लिए कल्याणकारी योजनाएं एवं इन योजनाओं का प्रदर्शन।

राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई)_40.1

राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई)-संदर्भ

  • हाल ही में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय की ‘राष्ट्रीय वयोश्री योजना’ (आरवीवाई योजना) के  अंतर्गत दिव्यांगजनों  तथा वरिष्ठ नागरिकों के लिए निशुल्क सहायक उपकरण वितरण शिविर का आयोजन किया गया।
  • केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री द्वारा मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ में कौशल विकास प्रशिक्षण तथा मरम्मत केंद्र के लिए स्वदेशी रूप से विकसित “सुगम्य” बेंत/छड़ी एवं कौशल विकास प्रशिक्षण तथा मरम्मत केंद्र  हेतु ‘स्वावलंबन केंद्र कंटेनर’ का शुभारंभ किया गया।

 

राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई) – मुख्य बिंदु

  • राष्ट्रीय वयोश्री योजना के बारे में: राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई) बीपीएल श्रेणी से संबंधित वरिष्ठ नागरिकों के लिए शारीरिक सहायता एवं सहायक-क्रियाशील उपकरण प्रदान करने की एक योजना है।
  • मंत्रालय: राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई) सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय की एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है।
  • वित्त पोषण: राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई) के क्रियान्वयन का व्यय “वरिष्ठ नागरिक कल्याण कोष” से वहन किया जाएगा।
  • कार्यान्वयन एजेंसी: इसे एकमात्र कार्यान्वयन एजेंसी – कृत्रिम अंग निर्माण निगम ( आर्टिफिशियल लिंब्स मैन्युफैक्चरिंग कॉरपोरेशन/ALIMCO), सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के अधीन एक सार्वजनिक उपक्रम के माध्यम से लागू किया जाएगा।
  • पात्रता: वरिष्ठ नागरिकों के लिए राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई) योजना का संपूर्ण लाभ प्राप्त करने हेतु  प्रमुख मानदंड यह है कि उन्हें बीपीएल परिवार से संबंधित होना चाहिए तथा उनके पास संबंधित प्राधिकरण द्वारा जारी वैध बीपीएल कार्ड होना चाहिए।

संपादकीय विश्लेषण: बुजुर्ग संपत्ति हैं, आश्रित नहीं

राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई) – मुख्य विशेषताएं

  • अर्ह वरिष्ठ नागरिकों के मध्य प्रकट होने वाली विकलांगता / दुर्बलता की सीमा के अनुरूप उपकरणों का निशुल्क वितरण।
  • एक ही व्यक्ति में प्रकट होने वाली बहु-विकलांगता/अशक्तता के मामले में, प्रत्येक निःशक्तता/अशक्तता के संबंध में सहायक उपकरण प्रदान किए जाएंगे।
  • आर्टिफिशियल लिम्ब्स मैन्युफैक्चरिंग कॉरपोरेशन (ALIMCO) साधनों एवं सहायक क्रियाशील उपकरणों के एक वर्ष के लिए निशुल्क रखरखाव का कार्य करेगा।
  • प्रत्येक जिले में लाभार्थियों का अभिनिर्धारण राज्य सरकारों/संघ राज्य क्षेत्र प्रशासनों द्वारा उपायुक्त/जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में एक समिति के माध्यम से किया जाएगा।
  • जहां तक ​​संभव हो, प्रत्येक जिले में 30 प्रतिशत लाभार्थी महिलाएं होंगी।
  • राज्य सरकार/संघ राज्य क्षेत्र प्रशासन/जिला स्तरीय समिति बीपीएल श्रेणी से संबंधित वरिष्ठ नागरिकों के अभि निर्धारण हेतु एनएसएपी या राज्य/संघ राज्य क्षेत्र की किसी अन्य योजना के तहत वृद्धावस्था पेंशन प्राप्त करने वाले बीपीएल लाभार्थियों के डेटा का भी उपयोग कर सकती है।
  • उपकरणों को कैंप मोड में वितरित किया जाएगा।

राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई)_50.1

राष्ट्रीय वयोश्री योजना (आरवीवाई) –

  • राष्ट्रीय वयोश्री योजना के तहत समर्थित उपकरण, पात्र बुजुर्ग लाभार्थी वरिष्ठ नागरिकों को उनकी शारीरिक दुर्बलता के आधार पर निम्नलिखित साधन एवं सहायक- क्रियाशील उपकरण प्रदान किए जाएंगे।
    • चलने की छड़ें
    • कोहनी बैसाखी
    • वॉकर / बैसाखी
    • तिपाई / क्वाड पॉड
    • श्रवण यंत्र
    • व्हीलचेयर
    • कृत्रिम डेन्चर
    • चश्मा

वरिष्ठ नागरिकों के लिए सेक्रेड पोर्टल

भारत में जराचिकित्सीय देखभाल

बुजुर्गों के लिए जीवन गुणवत्ता सूचकांक

भारत की वृद्ध जनसंख्या: दीर्घायु वित्त पर विशेषज्ञ समिति

डीएनटी के आर्थिक सशक्तिकरण के लिए योजना (सीड) ‘लाभार्थियों से रूबरू’ पहल | आजादी का अमृत महोत्सव संपादकीय विश्लेषण- एक ग्रहीय समायोजन मृदा के प्रकार भाग -2
मौलिक अधिकार (अनुच्छेद 12-32) | धार्मिक स्वतंत्रता का अधिकार (अनुच्छेद 25-28) फिनटेक ओपन हैकाथॉन टेरी का विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन (डब्ल्यूएसडीएस) न्यू इंडिया लिटरेसी प्रोग्राम (एनआईएलपी)
मौलिक अधिकार (अनुच्छेद 12-32) | शोषण के  विरुद्ध अधिकार संपादकीय विश्लेषण: बजट के ‘क्रिप्टो सिग्नल’ के पश्चात, भारत सुधारों की प्रतीक्षा में भारत में मृदा के प्रकार  सीएसआईआर-एनजीआरआई में भारत के प्रथम ओपन रॉक म्यूजियम का उद्घाटन 

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published.