UPSC Exam   »   World Sustainable Development Summit (WSDS)

टेरी का विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन (डब्ल्यूएसडीएस)

विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन (डब्ल्यूएसडीएस) – यूपीएससी परीक्षा के लिए प्रासंगिकता

  • जीएस पेपर 2: विकास प्रक्रियाएं एवं विकासात्मक उद्योग- गैर सरकारी संगठनों, स्वयं सहायता समूहों, विभिन्न समूहों तथा संगठनों, दाताओं, न्यासों, संस्थागत एवं अन्य हितधारकों की भूमिका।

टेरी का विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन (डब्ल्यूएसडीएस)_40.1

टेरी का विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन- संदर्भ

  • हाल ही में, भारत के प्रधानमंत्री ने वीडियो संदेश के माध्यम से द एनर्जी एंड रिसोर्सेज इंस्टीट्यूट (टीईआरआई) के विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन (वर्ल्ड सस्टेनेबल डेवलपमेंट समिट) में उद्घाटन भाषण दिया।

 

विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन (डब्ल्यूएसडीएस) – प्रमुख बिंदु

  • पृष्ठभूमि: विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन (डब्ल्यूएसडीएस) 2001 में टेरी द्वारा प्रारंभ किया गया था।
  • द वर्ल्ड सस्टेनेबल डेवलपमेंट समिट (डब्ल्यूएसडीएस) के बारे में: द वर्ल्ड सस्टेनेबल डेवलपमेंट समिट (डब्ल्यूएसडीएस) द एनर्जी एंड रिसोर्सेज इंस्टीट्यूट (टेरी) की वार्षिक महत्वाकांक्षी ट्रैक II पहल है।
    • इस वर्ष, डब्लूएसडीएस श्रृंखला ने ‘सतत विकास’ को विश्व स्तर पर साझा लक्ष्य बनाने की अपनी यात्रा में 20  वर्ष पूर्ण कर लिए हैं।
    • डब्ल्यूएसडीएस को पहले दिल्ली सस्टेनेबल डेवलपमेंट समिट के नाम से जाना जाता था।
  • अधिदेश: डब्ल्यूएसडीएस विश्व के सर्वाधिक प्रबुद्ध नेताओं एवं विचारकों को एक मंच पर एकत्रित करके वैश्विक समुदायों के लाभ के लिए दीर्घकालिक समाधान प्रदान करने का प्रयास करता है।
  • भागीदारी: विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन (डब्लूएसडीएस) दुनिया भर के विचारकों, राष्ट्राध्यक्षों एवं सरकार के प्रमुखों, विद्वानों, कॉरपोरेट्स, युवाओं के समूहों  तथा नागरिक समाज के प्रतिनिधियों को एक साथ लाने हेतु एक मंच प्रदान करता है।

यूपीएससी एवं राज्य लोक सेवा आयोगों की परीक्षाओं हेतु नि शुल्क अध्ययन सामग्री प्राप्त करें

विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन 2022: मुख्य विवरण

  • विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन 2022 के बारे 2022: विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन 2022 नई दिल्ली, भारत में एक मिश्रित प्रारूप में आयोजित किया जा रहा है।
  • प्रमुख प्रतिभागी: डोमिनिकन गणराज्य के राष्ट्रपति का, गुयाना के सहकारी गणराज्य के राष्ट्रपति एवं संयुक्त राष्ट्र के उप महासचिव के साथ शिखर सम्मेलन में भाग लेना निर्धारित है।
  • थीम: द वर्ल्ड सस्टेनेबल डेवलपमेंट समिट 2022 की विषय वस्तु (थीम) ‘टुवर्ड्स ए रेजिलिएंट प्लैनेट: एनश्योरिंग ए सस्टेनेबल एंड इक्विटेबल फ्यूचर’ है।

टेरी का विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन (डब्ल्यूएसडीएस)_50.1

द एनर्जी एंड रिसोर्सेज इंस्टिट्यूट (टीईआरआई) –  मुख्य बिंदु

  • द एनर्जी एंड रिसोर्सेज इंस्टीट्यूट (टीईआरआई) के बारे में: टेरी एक गैर-लाभकारी, स्वतंत्र, बहु-आयामी संगठन है, जो अनुसंधान, नीति, परामर्श तथा कार्यान्वयन में विशेषज्ञता रखता है।
  • टेरी का मुख्यालय:  टेरी का मुख्यालय नई दिल्ली में अवस्थित है, टेरी के गुरुग्राम, बेंगलुरु, गुवाहाटी, मुंबई, पणजी एवं नैनीताल में क्षेत्रीय केंद्र तथा परिसर हैं।
  • अधिदेश: टेरी ऊर्जा, पर्यावरण एवं सतत विकास में नवोन्मेषी समाधान निर्मित करने की दिशा में कार्य कर रहा है ताकि स्वच्छ भविष्य के लिए भारत के संक्रमण में तेजी लाई जा सके।
  • फोकस क्षेत्र: टेरी का कार्य निम्नलिखित भिन्न क्षेत्रों पर केंद्रित है-
    • संसाधनों के कुशल उपयोग को प्रोत्साहित करना
    • सतत आदानों एवं अभ्यासों की पहुंच तथा उद्ग्रहण में वृद्धि करना
    • पर्यावरण एवं जलवायु पर नकारात्मक प्रभाव को कम करना

 

न्यू इंडिया लिटरेसी प्रोग्राम (एनआईएलपी) मौलिक अधिकार (अनुच्छेद 12-32) | शोषण के  विरुद्ध अधिकार संपादकीय विश्लेषण: बजट के ‘क्रिप्टो सिग्नल’ के पश्चात, भारत सुधारों की प्रतीक्षा में भारत में मृदा के प्रकार 
सीएसआईआर-एनजीआरआई में भारत के प्रथम ओपन रॉक म्यूजियम का उद्घाटन  विज्ञान की संस्कृति के प्रोत्साहन हेतु योजना (एसपीओसीएस) केंद्रीय बजट 2022-23: सार्वजनिक निवेश प्रेरित विकास पर एक साहसिक प्रयास एशियन इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट बैंक (एआईआईबी)
कॉरपोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी: कॉरपोरेट इंडिया के लिए नया सीएसआर अधिदेश इसरो का पीएसएलवी-सी52/ईओएस-04 मिशन  संपादकीय विश्लेषण: भारत के भू-स्थानिक क्षेत्र की क्षमता पर ज़ूमिंग कृषि उत्पाद विपणन समितियाँ (एपीएमसी): इतिहास, लाभ, चुनौतियां, मॉडल एपीएमसी अधिनियम 

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published.