UPSC Exam   »   International Women's Day 2022

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस- यूपीएससी परीक्षा के लिए प्रासंगिकता

  • जीएस पेपर 2: भारतीय समाज की मुख्य विशेषताएं- महिलाओं तथा महिला संगठन की भूमिका।

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस_40.1

समाचारों में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

  • हाल ही में, भारत के राष्ट्रपति ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सभी महिलाओं को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दीं।

राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू)

 अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के बारे में प्रमुख तथ्य

  • पृष्ठभूमि: महिला दिवस प्रथम बार 1911 में मनाया गया था जब एक सम्मेलन में 17 देशों की 100 महिलाएं  सम्मिलित हुई थीं, जिसमें यूनियनों, समाजवादी दलों, कामकाजी महिला क्लबों तथा महिला विधायकों ने सर्वसम्मति से इसे स्वीकृति प्रदान की थी।
    • एक नारीवादी एवं श्रमिक नेता ज़ेटकिन ने एक सम्मेलन में प्रस्ताव दिया कि 28 फरवरी को प्रत्येक देश में महिला दिवस मनाया जाए।
    • हालाँकि, 1913 में, तिथि में परिवर्तन कर इसे 8 मार्च कर दिया गया एवं यह प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है।
  • अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के बारे में: अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस महिलाओं को समर्पित एक दिन है, जो अपने जीवन को बेहतर बनाने के लिए विश्व स्तर पर ली गई ऐतिहासिक यात्रा का एक प्रतीकात्मक अनुस्मारक है एवं यह कि उस मोर्चे पर बहुत कुछ प्राप्त किया जा चुका है, एक लंबी यात्रा अभी भी  शेष है एवं अभी बहुत कुछ किए जाने की आवश्यकता है।
  • अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के तिथि: अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस प्रत्येक वर्ष 8 मार्च को मनाया जाता है। इस वर्ष यह मंगलवार को पड़ रहा है।

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस_50.1

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस 2022

  • अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की विषय वस्तु: यूएन वूमेन के अनुसार, अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस, 2022 (IWD 2022) की थीम ‘एक स्थायी कल के लिए आज लैंगिक समानता’ (जेंडर इक्वलिटी टुडे फॉर  ए सस्टेनेबल टुमारो) है।
    • इसके अतिरिक्त, IWD 2022 अभियान की विषय वस्तु ‘#BreakTheBias’ (ब्रेक द बायस) है। यह एक ” लैंगिक रूप से सामान विश्व” को प्रोत्साहित करने का अभिप्राय रखता है, जो “पूर्वाग्रह, रूढ़ियों एवं भेदभाव से मुक्त” है।
    • “एक ऐसा विश्व जो विविध, न्यायसंगत एवं समावेशी है”, तथा जहां “अंतर को महत्व दिया जाता है एवं मनाया जाता है”।
  • महत्व: इस वर्ष का महिला दिवस “दुनिया भर में महिलाओं एवं बालिकाओं के योगदान को पहचानने का प्रयास करता है, जो सभी के लिए एक अधिक धारणीय भविष्य निर्मित करने हेतु जलवायु परिवर्तन अनुकूलन, शमन एवं प्रतिक्रिया पर प्रभार का नेतृत्व कर रही हैं”।

 

स्वयं सहायता समूह एवं ई-शक्ति संपादकीय विश्लेषण- विदेश में छात्रों के लिए सुरक्षा व्यवस्था  भारतीय रेलवे की कवच ​​प्रणाली सहायक संधि व्यवस्था | प्रभाव एवं महत्व
प्लास्टिक पुनर्चक्रण एवं अपशिष्ट प्रबंधन पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन  रूस यूक्रेन युद्ध पर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद संकल्प  सहायक संधि व्यवस्था | पृष्ठभूमि एवं प्रमुख विशेषताएं संपादकीय विश्लेषण- केयर इनफॉर्म्ड बाय डेटा
प्रवासियों एवं देश-प्रत्यावर्तितों के राहत तथा पुनर्वास हेतु प्रछत्र योजना  बीट प्लास्टिक पॉल्यूशन रूस-यूक्रेन युद्ध के मध्य क्वाड शिखर सम्मेलन भारतीय अर्थव्यवस्था पर रूस यूक्रेन युद्ध का प्रभाव

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published.