UPSC Exam   »   Quadrilateral Security Dialogue (Quad)   »   QUAD Summit 2022

रूस-यूक्रेन युद्ध के मध्य क्वाड शिखर सम्मेलन 

रूस-यूक्रेन युद्ध के मध्य क्वाड शिखर सम्मेलन- यूपीएससी परीक्षा के लिए प्रासंगिकता

  • जीएस पेपर 2: अंतर्राष्ट्रीय संबंध- द्विपक्षीय, क्षेत्रीय  एवं वैश्विक समूह  तथा भारत से जुड़े एवं/या भारत के हितों को प्रभावित करने वाले समझौते।

रूस-यूक्रेन युद्ध के मध्य क्वाड शिखर सम्मेलन _40.1

क्वाड शिखर सम्मेलन समाचारों में

  • हाल ही में, भारतीय प्रधानमंत्री ने अमेरिकी राष्ट्रपति, ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री एवं जापानी प्रधानमंत्री के साथ क्वाड नेताओं के एक आभासी शिखर सम्मेलन में भाग लिया।
  • क्वाड समिट 2022 में, भारत ने संयुक्त राष्ट्र चार्टर, अंतरराष्ट्रीय कानून एवं संप्रभुता तथा क्षेत्रीय अखंडता के सम्मान का पालन करने के महत्व को दोहराया।

 

रूस-यूक्रेन युद्ध के मध्य क्वाड शिखर सम्मेलन- प्रमुख बिंदु

  • क्वाड बैठक ने सितंबर 2021 क्वाड शिखर सम्मेलन के पश्चात से क्वाड पहल पर हुई प्रगति की समीक्षा की।
  • क्वाड नेताओं ने इस वर्ष के अंत में जापान में शिखर सम्मेलन द्वारा ठोस परिणाम प्राप्त करने के उद्देश्य से सहयोग में गति लाने पर सहमति व्यक्त की।
  • रूस-यूक्रेन युद्ध पर: क्वाड बैठक में यूक्रेन के हालिया घटनाक्रम पर चर्चा की गई, जिसमें इसके मानवीय निहितार्थ भी सम्मिलित हैं।
    • भारत ने रूस-यूक्रेन युद्ध को समाप्त करने  एवं वार्ता तथा कूटनीति के मार्ग पर वापस लौटने की आवश्यकता पर बल दिया।
  • अन्य चर्चित मुद्दे: क्वाड नेताओं ने निम्नलिखित मुद्दों पर भी चर्चा  की-
    • दक्षिण पूर्व एशिया की स्थिति,
    • हिंद महासागर क्षेत्र  एवं
    • प्रशांत द्वीप समूह (पेसिफिक आईलैंड)।

 

क्वाड समिट: क्वाड के लिए भारत का विजन

  • हिंद-प्रशांत क्षेत्र (इंडो-पैसिफिक रीजन) पर फोकस: भारत ने कहा कि क्वाड को हिंद-प्रशांत क्षेत्र में शांति, स्थिरता एवं समृद्धि को बढ़ावा देने के अपने मूल उद्देश्य पर केंद्रित रहना चाहिए।
  • सहयोग के क्षेत्रों का विस्तार: भारत ने क्वाड के भीतर सहयोग के ठोस एवं व्यावहारिक रूपों का आह्वान किया, जैसे-
    • मानवीय एवं आपदा राहत,
    • ऋण स्थिरता,
    • आपूर्ति श्रृंखला,
    •  स्वच्छ ऊर्जा,
    • कनेक्टिविटी,  एवं
    • क्षमता निर्माण।

रूस-यूक्रेन युद्ध के मध्य क्वाड शिखर सम्मेलन _50.1

चतुर्भुज सुरक्षा संवाद (QUAD) – प्रमुख बिंदु

  • चतुर्भुज सुरक्षा संवाद (क्वाड) के बारे में: चतुर्भुज सुरक्षा संवाद (क्वाड) भारत, अमेरिका, जापान एवं ऑस्ट्रेलिया के मध्य एक अनौपचारिक भू-रणनीतिक समूह है।
    • “क्वाड” गठबंधन का विचार, यद्यपि प्रथम बार 2007 में जापानी प्रधानमंत्री द्वारा प्रस्तुत किया गया था, यह 2017 में ही वास्तविकता में परिणत हुआ।
  • क्वाड का उद्देश्य: क्वाड सदस्य एक “निर्बाध, मुक्त एवं समृद्ध” इंडो-पैसिफिक क्षेत्र को सुनिश्चित करने  तथा समर्थन करने के लिए एक साझा उद्देश्य के साथ आए हैं।
    • क्वाड को भारत-प्रशांत क्षेत्र में, विशेष रूप से भू-रणनीतिक और आर्थिक क्षेत्र में बढ़ते चीनी प्रभुत्व का मुकाबला करने के लिए एक समूह के रूप में माना जाता है।

 

भारतीय अर्थव्यवस्था पर रूस यूक्रेन युद्ध का प्रभाव जैव प्रौद्योगिकी: परिभाषा, अनुप्रयोग एवं चुनौतियां तृतीय आंग्ल-मराठा युद्ध संपादकीय विश्लेषण: लाइन्स एंड रोल्स
एनडीआरएफ ने यूक्रेन को राहत सामग्री भेजी  “सागर परिक्रमा” कार्यक्रम स्त्री मनोरक्षा परियोजना सिम्बा: एशियाई सिंह की पहचान हेतु सॉफ्टवेयर
लैंगिक भूमिकाओं पर प्यू स्टडी द्वितीय आंग्ल-मराठा युद्ध भारत में जनसांख्यिकीय लाभांश के उपयोग मार्केट इंफ्रास्ट्रक्चर इंस्टीट्यूशंस

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published.