UPSC Exam   »   National Exhibition of Arts   »   India Chem-2022

इंडिया केम-2022

इंडिया केम-2022-  यूपीएससी परीक्षा के लिए प्रासंगिकता

India Chem-2022: India Chem-2022 भारत के पेट्रोकेमिकल उद्योग को प्रोत्साहन देने हेतु सरकार द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम है। इंडिया केम-2022 प्रदर्शनी का उद्देश्य मेक इन इंडिया को बढ़ावा देना एवं भारत में उद्योग की आत्मनिर्भरता सुनिश्चित करना है। India Chem-2022 यूपीएससी मुख्य परीक्षा के सामान्य अध्ययन के पेपर 2 (शासन, प्रशासन एवं चुनौतियां- सरकार की नीतियां एवं विभिन्न क्षेत्रों में विकास के लिए अंतःक्षेप तथा उनकी अभिकल्पना एवं कार्यान्वयन से उत्पन्न होने वाले मुद्दों) के अंतर्गत आएगा।

इंडिया केम-2022_40.1

समाचारों में इंडिया केम-2022 

  • हाल ही में, केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री, डॉ मनसुख मंडाविया ने इंडिया केम-2022 के आगामी 12वें संस्करण की योजना बनाने के लिए बैठक की अध्यक्षता की।

 

India Chem-2022

  • इंडिया केम के बारे में: इंडिया केम एशिया-प्रशांत क्षेत्र में उद्योग की सर्वाधिक बृहद समग्र कार्यक्रमों में से एक है  एवं इसमें एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन  तथा प्रदर्शनी  सम्मिलित है।
  • अधिदेश: इंडिया केम प्रदर्शनी का उद्देश्य भारतीय रासायनिक उद्योग  तथा विभिन्न उद्योग क्षेत्रों की विशाल क्षमता का प्रदर्शन करना है, जो कि सरकार की सहायक नीति, निवेशकों के लिए प्रमुख निवेश के अवसरों के माध्यम से प्रदान किए गए अनुकूल पारिस्थितिकी तंत्र के संदर्भ में है।
  • थीम: इंडिया केम-2022 प्रदर्शनी का आयोजन थीम- “विजन 2030-केम एंड पेट्रोकेमिकल्स बिल्ड इंडिया” के साथ किया जा रहा है।
  • भागीदारी: कार्यक्रम में प्रदर्शक थोक, उत्तम एवं विशिष्ट रासायनिक उद्योगों से आएंगे तथा इसमें भारतीय  एवं अंतर्राष्ट्रीय कंपनियां भी सम्मिलित होंगी।
    • सह- अवस्थित कार्यक्रम संयंत्र तथा उपकरण एवं रासायनिक सम्भारिकी (रसद) में क्षमताओं का प्रदर्शन करेंगे।
  • आयोजक मंत्रालय: फिक्की के सहयोग से रसायन एवं पेट्रो रसायन विभाग द्वारा 12वीं इंडिया केम-2022 प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा।
  • महत्व: यह क्षेत्र प्रधानमंत्री की मेक इन इंडिया एवं मेक फॉर द वर्ल्ड की पहल का समर्थन करता है।
    • India Chem-2022 प्रदर्शनी निवेशकों एवं अवसरों की पहचान करने का अवसर प्रदान करेगी।
    • यह भारत को रसायन क्षेत्र में निवेशकों एवं हितधारकों के लिए एक अनुकूल गंतव्य के रूप में प्रदर्शित करेगा।”
    • यह मेक इन इंडिया पहल के लक्ष्य को आगे बढ़ाने के लिए घरेलू एवं अंतरराष्ट्रीय निवेशकों तथा अन्य हितधारकों को अंतः क्रिया करने एवं संगठन निर्मित करने हेतु एक मंच भी प्रदान करेगा।

इंडिया केम-2022_50.1

भारतीय रसायन एवं पेट्रोकेमिकल उद्योग

  • भारतीय रसायन एवं पेट्रोकेमिकल उद्योग  के उदाहरण: उद्योग के उदाहरण रसायन, पेट्रोकेमिकल, कृषि रसायन उद्योग, प्रक्रिया तथा मशीनरी हैं।
  • बाजार का आकार एवं क्षमता: भारतीय रसायन एवं पेट्रोकेमिकल क्षेत्र का बाजार आकार वर्तमान में 178 बिलियन अमरीकी डालर है।
    • रसायन और पेट्रो रसायन क्षेत्र भारत को एक वैश्विक विनिर्माण केंद्र में रूपांतरित कर सकता है।
  • क्षमता: भारत न केवल विश्व का छठा सर्वाधिक वृहद रसायन उत्पादक है, बल्कि 175 से अधिक देशों को रसायनों का निर्यात भी करता है।
  • निर्यात: भारतीय रसायन तथा पेट्रोकेमिकल्स क्षेत्र का भारत के कुल निर्यात का 13% हिस्सा गठित करता है।

 

दल बदल विरोधी कानून- विधायकों की निरर्हता भारत में नमक क्षेत्र का संकट संयुक्त राष्ट्र महासागर सम्मेलन 2022 भारत की गिग एवं प्लेटफ़ॉर्म अर्थव्यवस्था पर नीति आयोग की रिपोर्ट 
ब्रिक्स शिखर सम्मेलन 2022- प्रमुख निष्कर्ष जिलों के लिए परफॉर्मेंस ग्रेडिंग इंडेक्स स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0: संशोधित स्वच्छ प्रमाणन प्रोटोकॉल का विमोचन किया किया यूएनजीए ने आंतरिक विस्थापन पर कार्य एजेंडा का विमोचन किया
सतत विकास रिपोर्ट 2022 संपादकीय विश्लेषण- चांसलर कांउंड्रम खाड़ी सहयोग परिषद के साथ भारत के व्यापार में तीव्र वृद्धि राज्य खाद्य सुरक्षा सूचकांक 2022

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.