UPSC Exam   »   PLFS Quarterly Bulletin   »   पीएलएफएस त्रैमासिक बुलेटिन अप्रैल-जून 2021

पीएलएफएस त्रैमासिक बुलेटिन अप्रैल-जून 2021

पीएलएफएस यूपीएससी: प्रासंगिकता

  • जीएस 3: भारतीय अर्थव्यवस्था एवं आयोजना, संसाधनों का अभिनियोजन, वृद्धि, विकास एवं रोजगार से संबंधित मुद्दे।

पीएलएफएस त्रैमासिक बुलेटिन अप्रैल-जून 2021_40.1

पीएलएफएस: संदर्भ

  • हाल ही में, सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय ने अप्रैल-जून 2021 के लिए त्रैमासिक बुलेटिन जारी किया है।

 

पीएलएफएस नवीनतम निष्कर्ष: प्रमुख निष्कर्ष

 

बेरोजगारी दर

15 वर्ष एवं उससे अधिक आयु के व्यक्तियों के लिए शहरी क्षेत्रों में सीडब्ल्यूएस में बेरोजगारी दर (प्रतिशत में)

अखिल भारतीय

एनएसएस सर्वेक्षण अवधि पुरुष महिला व्यक्ति
(1) (2) (3) (4)
अप्रैल – जून 2020 20.7 21.1 20.8
जुलाई – सितंबर 2020 12.6    15.8 13.2
अक्टूबर-दिसंबर 2020 9.5 13.1 10.3
जनवरी-मार्च 2021 8.6 11.8 9.3
अप्रैल-जून 2021 12.2 14.3 12.6

 

श्रम बल भागीदारी दर

15 वर्ष एवं उससे अधिक आयु के व्यक्तियों के लिए शहरी क्षेत्रों में सीडब्ल्यूएस में एलएफपीआर (प्रतिशत में)

अखिल भारतीय

एनएसएस सर्वेक्षण अवधि पुरुष महिला व्यक्ति
(1) (2) (3) (4)
अप्रैल – जून 2020 71.7 19.6 45.9
जुलाई – सितंबर 2020 73.5 20.3   47.2
अक्टूबर – दिसंबर 2020 73.6 20.6 47.3
जनवरी – मार्च 2021 73.5 21.2 47.5
अप्रैल – जून 2021 73.1 20.1 46.8

 

 

श्रमिक जनसंख्या अनुपात

15 वर्ष एवं उससे अधिक आयु के व्यक्तियों के लिए शहरी क्षेत्रों में सीडब्ल्यूएस में डब्ल्यूपीआर (प्रतिशत में)

अखिल भारतीय

एनएसएस सर्वेक्षण अवधि पुरुष महिला व्यक्ति
(1) (2) (3) (4)
अप्रैल – जून 2020 56.9 15.5 36.4
जुलाई-सितंबर 2020 64.3 17.1 40.9
अक्टूबर-दिसंबर 2020 66.7 17.9 42.4
जनवरी-मार्च 2021 67.2 18.7 43.1
अप्रैल-जून 2021 64.2 17.2 40.9

पीएलएफएस त्रैमासिक बुलेटिन अप्रैल-जून 2021_50.1

पीएलएफएस के उद्देश्य

  • केवल ‘वर्तमान साप्ताहिक स्थिति’ (सीडब्ल्यूएस) में शहरी क्षेत्रों के लिए तीन माह के कम समय अंतराल में प्रमुख रोजगार एवं बेरोजगारी संकेतकों (अर्थात श्रमिक जनसंख्या अनुपात, श्रम बल भागीदारी दर, बेरोजगारी दर) का अनुमान लगाने हेतु।
  • ग्रामीण एवं शहरी दोनों क्षेत्रों में वार्षिक ‘सामान्य अवस्थिति’ (पीएस+एसएस)  तथा सीडब्ल्यूएस दोनों में रोजगार  एवं बेरोजगारी संकेतकों का अनुमान लगाने हेतु।

 

मूल परिभाषा

  • श्रम बल सहभागिता दर (एलएफपीआर): एलएफपीआर को जनसंख्या में श्रम बल (अर्थात कार्यशील  अथवा कार्य की मांग करने वाले  अथवा कार्य हेतु उपलब्ध) में व्यक्तियों के प्रतिशत के रूप में परिभाषित किया गया है।
  • श्रमिक जनसंख्या अनुपात (वर्कर पापुलेशन रेश्यो/WPR): WPR को जनसंख्या में नियोजित व्यक्तियों के प्रतिशत के रूप में परिभाषित किया गया है।
  • बेरोजगारी दर (यूआर): यूआर को श्रम बल में व्यक्तियों के मध्य बेरोजगार व्यक्तियों के प्रतिशत के रूप में परिभाषित किया गया है।
  • वर्तमान साप्ताहिक स्थिति (सीडब्ल्यूएस): सर्वेक्षण की तिथि से पूर्व विगत 7 दिनों की संदर्भ अवधि के आधार पर निर्धारित गतिविधि की अवस्थिति को व्यक्ति की वर्तमान साप्ताहिक स्थिति (सीडब्ल्यूएस) के रूप में जाना जाता है।

 

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) | ट्राई के बारे में, संरचना, निष्कासन एवं प्रमुख उद्देश्य संपादकीय विश्लेषण: खंडित विश्व व्यवस्था, संयुक्त राष्ट्रसंघ डीआरडीओ द्वारा विकसित प्रौद्योगिकियों की सूची ग्लोबल एंटरप्रेन्योरशिप मॉनिटर (जीईएम) रिपोर्ट
विभिन्न बसाव प्रतिरूप कन्या शिक्षा प्रवेश उत्सव अभियान जेंडर संवाद: ग्रामीण विकास मंत्रालय ने तीसरे संस्करण का आयोजन किया  राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय
संपादकीय विश्लेषण- अ-निर्देशित प्रक्षेपास्त्र खान एवं खनिज (विकास तथा विनियमन) अधिनियम, 1957 में संशोधन स्वीकृत दांडी मार्च | राष्ट्रीय नमक सत्याग्रह कृषि में उर्वरक का उपयोग

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published.