UPSC Exam   »   National Emblem of India   »   India ki Udaan Initiative

भारत की उड़ान: संस्कृति मंत्रालय एवं गूगल की एक पहल 

इंडिया की उड़ान पहल- यूपीएससी परीक्षा के लिए प्रासंगिकता

  • जीएस पेपर 1: भारतीय इतिहास- भारतीय संस्कृति प्राचीन से आधुनिक समय तक कला रूपों, साहित्य  एवं वास्तुकला के मुख्य पहलुओं को समाहित करेगी।

भारत की उड़ान: संस्कृति मंत्रालय एवं गूगल की एक पहल _40.1

भारत की उड़ान पहल- चर्चा में क्यों है?

  • संस्कृति मंत्रालय एवं गूगल ने विगत 75 वर्षों में भारत की अटूट, अमर भावना एवं इसकी उपलब्धियों का  उत्सव मनाने हेतु ‘भारत की उड़ान’ पहल प्रारंभ की।

 

इंडिया की उड़ान पहल 

  • इंडिया की उड़ान पहल के बारे में: इंडिया की उड़ान पहल भारत की अटूट एवं अमर भावना का उत्सव है। आजादी का अमृत महोत्सव के तत्वावधान में भारत की उड़ान पहल का आयोजन किया गया।
  • उद्देश्य: संयुक्त पहल अपने समृद्ध अभिलेखागार एवं कलात्मक चित्रण के माध्यम से इंटरनेट पर सक्रिय व्यक्तियों (नेटिज़न्स) को भारत की समृद्ध संस्कृति  एवं विरासत में ले जाएगी।
  • थीम: भारत की उड़ान परियोजना ‘विगत 75 वर्षों में भारत की अटूट एवं अमर भावना’ विषय पर आधारित है।
  • कार्यान्वयन: भारत की उड़ान पहल को संस्कृति मंत्रालय के सहयोग से गूगल कला एवं संस्कृति द्वारा क्रियान्वित किया जा रहा है।
  • महत्व: यह पहल उपयोगकर्ताओं को भारत के उल्लेखनीय क्षणों को आभासी रूप से देखने के लिए एक  विशिष्ट दृश्य प्रस्तुत करेगी।
    • यदि उपयोगकर्ता संग्रह में अधिक उद्यम करते हैं तो वे भारतीय इतिहास में प्रतिष्ठित व्यक्तित्वों, वैज्ञानिक  तथा खेल उपलब्धियों एवं देश की प्रमुख महिला व्यक्तित्वों के बारे में जान सकेंगे।

 

इंडिया की उड़ान पहल- गूगल द्वारा प्रमुख पहल

  • संस्कृति मंत्रालय के साथ साझेदारी में गूगल सूचनात्मक ऑनलाइन सामग्री निर्मित करने की योजना बना रहा है जो स्वतंत्रता के पश्चात एवं स्वतंत्रता के पूर्व राष्ट्र को बदलने में भारतीयों के योगदान को प्रदर्शित करेगी।
  • गूगल ने अपने उत्पादों एवं सेवाओं में विशेष पहलों की एक श्रृंखला प्रारंभ करने की भी घोषणा की जो संपूर्ण वर्ष के दौरान अपने भारतीय उपयोगकर्ताओं को समृद्ध सामग्री तथा एक प्रमुख अनुभव प्रदान करेगी।
  • गूगल ने इस ऑनलाइन संग्रह के माध्यम से एक समृद्ध एवं विशिष्ट अनुभव प्रदान करने हेतु भारत एवं  संपूर्ण विश्व के कलाकारों को सम्मिलित करने की योजना निर्मित की है।

भारत की उड़ान: संस्कृति मंत्रालय एवं गूगल की एक पहल _50.1

आज़ादी का अमृत महोत्सव (AKAM) के बारे में प्रमुख तथ्य 

  • आजादी का अमृत महोत्सव के बारे में: आजादी का अमृत महोत्सव प्रगतिशील भारत के 75 वर्ष एवं इसके लोगों, संस्कृति  तथा उपलब्धियों के गौरवशाली इतिहास का उत्सव मनाने तथा स्मरण करने की एक पहल है।
    • आजादी का अमृत महोत्सव भारत की सामाजिक-सांस्कृतिक, राजनीतिक तथा आर्थिक पहचान के बारे में जो भी प्रगतिशील उसका एक मूर्त रूप है।
  • भारत के लोगों का उत्सव: आजादी का अमृत महोत्सव भारत के उन लोगों को समर्पित है, जिन्होंने भारत को उसकी विकास यात्रा में यहां तक लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
    • भारत के लोग भी अपने भीतर शक्ति तथा क्षमता रखते हैं, जो भारत 2.0 को सक्रिय करने के प्रधानमंत्री के दृष्टिकोण को सक्षम बनाता है, जो आत्मनिर्भर भारत की भावना से प्रेरित है।
  • आज़ादी का अमृत महोत्सव का प्रारंभ: “आज़ादी का अमृत महोत्सव” की आधिकारिक यात्रा 12 मार्च 2021 को आरंभ हुई, जो हमारी स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के लिए 75-सप्ताह की उलटी गिनती आरंभ करती है।
  • श्रेणीबद्ध करें: आजादी का अमृत महोत्सव को पांच श्रेणियों में मनाए जाने की कल्पना की गई है –
    • स्वतंत्रता संग्राम (फ्रीडम स्ट्रगल),
    • विचार (आइडिया) @ 75,
    • उपलब्धियां (अचीवमेंट्स) @ 75,
    • कार्रवाई (एक्शन) @ 75 तथा
    • समाधान (रिसॉल्व) @75

 

तंग मौद्रिक नीति भारत-मॉरीशस सीईसीपीए संपादकीय विश्लेषण- स्टीकिंग टू कमिटमेंट्स, बैलेंसिंग एनर्जी यूज एंड क्लाइमेट चेंज इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ हेरिटेज’ (आईआईएच)
संपादकीय विश्लेषण- सोप और वेलफेयर डिबेट उत्तर पूर्वी अंतरिक्ष अनुप्रयोग केंद्र (एनईएसएसी) आसियान एवं भारत यूएनएफसीसीसी में भारत का अद्यतन राष्ट्रीय रूप से निर्धारित योगदान (एनडीसी)
ग्लोबल इंगेजमेंट स्कीम: भारतीय भारतीय लोक कला एवं संस्कृति को प्रोत्साहित करना एनीमिया मुक्त भारत (एएमबी) रणनीति समान नागरिक संहिता स्कूल इनोवेशन काउंसिल (एसआईसी)

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published.