UPSC Exam   »   दावोस शिखर सम्मेलन 2022 | विश्व...

दावोस शिखर सम्मेलन 2022 | विश्व आर्थिक मंच की दावोस कार्य सूची 2022

दावोस शिखर सम्मेलन 2022- यूपीएससी परीक्षा के लिए प्रासंगिकता

  • जीएस पेपर 2: अंतर्राष्ट्रीय संबंध– महत्वपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय संस्थान, एजेंसियां ​​एवं मंच- उनकी संरचना, अधिदेश।

दावोस शिखर सम्मेलन 2022 | विश्व आर्थिक मंच की दावोस कार्य सूची 2022_40.1

दावोस शिखर सम्मेलन 2022- संदर्भ

  • हाल ही में, भारत के प्रधानमंत्री ने विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की दावोस कार्यसूची (एजेंडा) 2022 में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विश्व की विशेष स्थिति का विशेष संबोधन दिया।
  • दावोस शिखर सम्मेलन में, उन्होंने “उपयोग एवं निपटान” की उपभोक्तावादी प्रवृत्ति पर सबका ध्यान केंद्रित किया एवं एक वैश्विक जन आंदोलन आरंभ करके इस प्रवृत्ति को बदलने हेतु तर्क दिया।
  • दावोस शिखर सम्मेलन 2022- दावोस शिखर सम्मेलन 2022 17-21 जनवरी 2022 के मध्य आयोजित किया जा रहा है।
    • विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) आने वाले वर्ष की अनिवार्यताओं पर वैश्विक नेताओं को उन्मुख करने के वार्षिक बैठक उद्देश्य के अनुरूप आभासी पूर्ण अधिवेशनों की एक श्रृंखला की मेजबानी करेगा।

 

दावोस शिखर सम्मेलन 2022- दावोस शिखर सम्मेलन में भारत का रुख

  • जलवायु परिवर्तन से लड़ना: भारतीय प्रधान मंत्री ने सुझाव दिया कि ‘पर्यावरण के लिए जीवन शैली’ जलवायु संबंधी चुनौतियों से लड़ने हेतु उपयोगी है।
    • अपने दावोस 2022 शिखर सम्मेलन में, भारत ने विश्व को “3 पी” – “प्रो प्लेनेट पीपलके साथ एक जन आंदोलन आरंभ करने का सुझाव दिया।
  • कोविड-19 का मुकाबला करना: कोविड-19 महामारी का मुकाबला करने में भारत की भूमिका पर, विशेष रूप से भारतीय चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य पेशेवरों द्वारा निभाई गई भूमिका पर प्रकाश डाला।
    • भारत विश्व का तीसरा सर्वाधिक वृहद औषधि (फार्मा) उत्पादक देश है।
    • कोविड-19 के समय में, भारत ‘एक पृथ्वी, एक स्वास्थ्य’ ( वन अर्थ, वन हेल्थ) के विजन का अनुसरण करते हुए अनेक देशों को आवश्यक दवाएं एवं टीके उपलब्ध कराकर करोड़ों  व्यक्तियों के जीवन की रक्षा कर रहा है।
  • प्रो-बिजनेस, इनोवेशन एंड एंटरप्रेन्योरशिप फ्रेंडली इंडिया: दावोस सम्मेलन में प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के युवाओं में उद्यमिता (एंटरप्रेन्योरशिप) की भावना अत्यधिक उच्च है।
    • भारत ने इस बात पर प्रकाश डाला कि देश में 50 लाख से अधिक सॉफ्टवेयर डेवलपर कार्य कर रहे हैं एवं विगत छह माह में 10,000 स्टार्टअप पंजीकृत हुए हैं।
    • भारत द्वारा विगत कुछ वर्षों में विकसित एवं अपनाया गया डिजिटल बुनियादी ढांचा भारत के लिए एक बड़ी शक्ति बन गया है।
    • उदाहरण के लिए- आरोग्य सेतु ऐप (कोरोना संक्रमण की ट्रैकिंग के लिए प्रयुक्त) तथा को-विन पोर्टल (टीकाकरण हेतु प्रयुक्त तकनीकी समाधान हैं)।
    • ड्रोन, अंतरिक्ष, भू-स्थानिक मानचित्रण जैसे कई क्षेत्रों को नियंत्रण से मुक्ति।

 

दावोस शिखर सम्मेलन 2022- प्रमुख बिंदु

  • दावोस शिखर सम्मेलन के बारे में: दावोस शिखर सम्मेलन विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) द्वारा दावोस (स्विट्जरलैंड) में आयोजित एक वार्षिक संवाद है।
  • उद्देश्य: दावोस एजेंडा सर्वाधिक महत्वपूर्ण वैश्विक मुद्दों से संबंधित अपने दृष्टिकोण, अंतर्दृष्टि एवं योजनाओं को साझा करने के लिए राज्य एवं सरकार, व्यापारिक प्रमुखों, अंतरराष्ट्रीय संगठनों एवं नागरिक समाज के प्रमुखों को अभिनियोजित करेगा।
    • दावोस बैठक अनुयोजकता के लिए एक मंच भी प्रदान करेगी, जिससे लोगों को जीवंत प्रवाह सत्र (लाइव स्ट्रीम सेशन), सोशल मीडिया मतदान एवं आभासी कनेक्शन के माध्यम से देखने एवं अंतः क्रिया करने में सहायता मिलेगी।

दावोस शिखर सम्मेलन 2022 | विश्व आर्थिक मंच की दावोस कार्य सूची 2022_50.1

विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ)

  • विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) के बारे में: विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) एक अंतरराष्ट्रीय गैर-सरकारी एवं दबाव कारी (पक्ष जुटाव) संगठन है।
    • क्लॉस श्वाब को 24, 1971 को विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की स्थापना करने का श्रेय दिया जाता है।
    • इसे स्विस सरकार द्वारा सार्वजनिक-निजी सहयोग के लिए अंतरराष्ट्रीय संस्था के रूप में मान्यता प्राप्त है।
  • वित्त पोषण: विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) को अधिकांशतः इसकी 1,000 सदस्य कंपनियों द्वारा वित्त पोषित किया जाता है।
  • अधिदेश: डब्ल्यूईएफ वैश्विक, क्षेत्रीय एवं उद्योग एजेंडा को आकार प्रदान करने हेतु व्यापार, राजनीतिक, शैक्षणिक एवं समाज के अन्य नेतृत्वकर्ताओं को शामिल करके विश्व की स्थिति में सुधार करने हेतु प्रतिबद्ध है।
संरक्षित क्षेत्र: बायोस्फीयर रिजर्व व्याख्यायित भारत में बढ़ रहा सौर अपशिष्ट भारत-अमेरिका होमलैंड सुरक्षा संवाद नारी शक्ति पुरस्कार 2021
भारत-यूके मुक्त व्यापार समझौता संपादकीय विश्लेषण- फ्रेंड इन नीड राजनीतिक दलों का पंजीकरण: राष्ट्रीय एवं राज्य के राजनीतिक दलों के पंजीकरण हेतु पात्रता मानदंड भारत वन स्थिति रिपोर्ट 2021
असम-मेघालय सीमा विवाद संपादकीय विश्लेषण: भारत-प्रशांत अवसर अपवाह तंत्र प्रतिरूप: भारत के विभिन्न अपवाह तंत्र प्रतिरूप को समझना इलाहाबाद की संधि 1765

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *