UPSC Exam   »   A Climate Dividend- India at the...   »   Climate Equity Monitor

जलवायु साम्यता अनुश्रवक

जलवायु साम्यता अनुश्रवक- यूपीएससी परीक्षा हेतु प्रासंगिकता

  • जीएस पेपर 3: पर्यावरण- संरक्षण, पर्यावरण प्रदूषण एवं क्षरण

जलवायु साम्यता अनुश्रवक_40.1

क्या आपने यूपीएससी सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2021 को उत्तीर्ण कर लिया है?  निशुल्क पाठ्य सामग्री प्राप्त करने के लिए यहां रजिस्टर करें

 

जलवायु साम्यता अनुश्रवक- संदर्भ

  • भारत ने वैश्विक जलवायु नीति पर “क्लाइमेट इक्विटी मॉनिटर” वेबसाइट के लाइव होने का स्वागत किया।
  • जलवायु साम्यता अनुश्रवक (क्लाइमेट इक्विटी मॉनिटर) आंकड़े एवं साक्ष्य-आधारित परिप्रेक्ष्य से साम्यता एवं जलवायु कार्रवाई पर ध्यान केंद्रित करता है।
  • क्लाइमेट इक्विटी मॉनिटर इस महत्वपूर्ण मुद्दे पर जोरदार चर्चा को प्रोत्साहित करेगा एवं सभी देशों के विशेषज्ञों को इसमें शामिल करेगा।

एक जलवायु लाभांश- यूएनएफसीसीसी के कॉप 26 में भारत

जलवायु साम्यता अनुश्रवक- प्रमुख बिंदु

  • क्लाइमेट इक्विटी मॉनिटर के बारे में: क्लाइमेट इक्विटी मॉनिटर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर निम्नलिखित के आकलन हेतु एक ऑनलाइन डैशबोर्ड प्रदान करता है-
    • जलवायु कार्रवाई में साम्यता,
    • संपूर्ण विश्व में उत्सर्जन, ऊर्जा एवं संसाधनों के उपयोग में असमानता, एवं
    • अनेक देशों की जारी जलवायु नीतियां।
  • विकास: क्लाइमेट इक्विटी मॉनिटर की संकल्पना एवं विकास भारत के स्वतंत्र शोधकर्ताओं द्वारा किया गया है। इसमें शामिल एजेंसियां ​​हैं-
    • एमएस स्वामीनाथन रिसर्च फाउंडेशन (एमएसएसआरएफ), चेन्नई में जलवायु परिवर्तन समूह, एवं
    • राष्ट्रीय उन्नत अध्ययन संस्थान (एनआईएएस) बेंगलुरु में प्राकृतिक विज्ञान एवं अभियांत्रिकी विभाग
  • मुख्य अधिदेश: क्लाइमेट इक्विटी मॉनिटर का उद्देश्य यूएनएफसीसीसी (विकसित देशों) के तहत अनुलग्नक-I  के पक्षकारों के प्रदर्शन का अनुश्रवण करना है।
    • अनुश्रवण जलवायु सम्मेलन के मूलभूत सिद्धांतों- साम्यता एवं सामान्य किंतु पृथक पृथक उत्तरदायित्वों एवं संबंधित क्षमताओं (सीबीडीआर-आरसी) के सिद्धांत पर आधारित होगा।
    • गैर-अनुलग्नक-I पक्षकारों (विकासशील देशों) के प्रदर्शन एवं नीतियों को भी तुलना के लिए उपलब्ध कराया जाएगा।

पारिस्थितिक संकट रिपोर्ट 2021

जलवायु साम्यता अनुश्रवक- महत्व

  • वैश्विक कार्बन बजट का साम्य बंटवारा: क्लाइमेट इक्विटी मॉनिटर वेबसाइट पर उत्तरोत्तर प्रदर्शित होगा जो आकलन के लिए मौलिक इक्विटी सिद्धांत है।
    • जलवायु नीतियों पर वर्तमान “ट्रैकिंग” वेबसाइटें वैश्विक उत्तर में आधारित हैं एवं नियमित रूप से साम्यता एवं विभेद के महत्वपूर्ण पहलुओं का समाधान नहीं करती हैं।
  • जागरूकता उत्पन्न करना: क्लाइमेट इक्विटी मॉनिटर विशेष रूप से वैश्विक दक्षिण की जनता के मध्य जागरूकता उत्पन्न करने का प्रयास करता है, कि जलवायु कार्रवाई एक वैश्विक सामूहिक कार्रवाई समस्या है।
  • विवरणों में परिवर्तन: क्लाइमेट इक्विटी मॉनिटर का उद्देश्य अनेक विकसित देशों एवं वैश्विक गैर-सरकारी संगठनों द्वारा प्रदान किए गए विवरणों का पर्दाफाश करना है।
    • वे निरंतर इस बात पर ध्यान केंद्रित करते हैं कि विकासशील देशों को क्या करना चाहिए, वे निरंतर उनसे अधिक प्रतिबद्धता एवं कार्रवाई की मांग करते हैं।
  • क्लाइमेट इक्विटी मॉनिटर वेबसाइट के  निम्नलिखित हेतु एक मूल्यवान उपकरण होने की संभावना है-
    • विकासशील देशों के नीति निर्माता, सार्वजनिक संस्थान, शोधकर्ता, शिक्षाविद, छात्र एवं आम जनता।
    • यह उन्हें अपने परिप्रेक्ष्य में साम्यता एवं जलवायु न्याय के विचारों को स्पष्ट रूप से ध्यान में रखने में सहायता करेगा।

जलवायु सुभेद्यता सूचकांक

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published.