UPSC Exam   »   Vritika Research Internship

वृतिका शोध प्रशिक्षुता

वृतिका रिसर्च इंटर्नशिप: प्रासंगिकता

  • जीएस 3: विभिन्न क्षेत्रों में विकास के लिए सरकारी नीतियां एवं अंतः क्षेप

वृतिका शोध प्रशिक्षुता_40.1

त्वरित विज्ञान योजना: संदर्भ

  • हाल ही में, विज्ञान एवं अभियांत्रिकी अनुसंधान बोर्ड (साइंस एंड इंजीनियरिंग रिसर्च बोर्ड/एसईआरबी), विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी विभाग (डिपार्टमेंट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी/डीएसटी), भारत सरकार द्वारा प्रायोजित एक माह की वृतिका रिसर्च इंटर्नशिप का समापन त्वरित विज्ञान वर्तिका योजना के तहत किया गया था।

 

वृतिका अनुसंधान इंटर्नशिप के बारे में

  • ‘वृतिका’ प्रशिक्षण एवं कौशल प्रशिक्षुता के माध्यम से विज्ञान में दीक्षा एवं अभ्यास का आह्वान है।
  • इस कार्यक्रम का उद्देश्य विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों के होनहार परास्नातक (पीजी) छात्रों को एक्सपोजर एवं व्यावहारिक अनुसंधान कौशल विकास अनुभव प्राप्त करने का अवसर प्रदान करना है
  • इन इंटर्नशिप को मुख्य रूप से राष्ट्रीय महत्व के संगठनों / संस्थानों / प्रयोगशालाओं जैसे  आईआईटी,  आईआईएससी, आईआईएसईआर, एनआईटी, सीएसआईआर, आईसीएआर, आईसीएमआर इत्यादि द्वारा सुविधा प्रदान की जाएगी।

 

वृतिका अनुसंधान इंटर्नशिप: उद्देश्य

  • प्रशिक्षण तथा कौशल  प्रशिक्षुता के माध्यम से समर्पित अनुसंधान कौशल विकसित करके छात्रों (मुख्य रूप से विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों, निजी शैक्षणिक संस्थानों एवं नवीन स्थापित संस्थानों) को उनके वैज्ञानिक वृत्ति विकास (कैरियर) में तैयार करना
  • यह कार्यक्रम युवा प्रतिभाओं को पश्चातवर्ती चरण में विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी में करियर का मार्ग चुनने की सुविधा प्रदान करेगा।
  • यह योजना नियमित पीजी स्तर के छात्रों का समर्थन करने हेतु है जो विज्ञान एवं अभियांत्रिकी के क्षेत्र में भारत के विश्वविद्यालय / संस्थान से अपनी डिग्री प्राप्त कर रहे हैं तथा वैज्ञानिक अनुसंधान में रुचि रखते हैं।

 

वृतिका रिसर्च इंटर्नशिप: समर्थन

  • इंटर्नशिप दैनिक आवश्यक व्ययों जैसे स्टेशनरी, उपभोग्य सामग्रियों, आवास, भोजन इत्यादि को पूरा करने के लिए दी जाएगी तथा उनके लिए कोई वजीफा नहीं होगा।
  • संपूर्ण इंटर्नशिप अवधि के लिए सहायता राशि 30000/- रुपये प्रति प्रशिक्षु होगी।

वृतिका शोध प्रशिक्षुता_50.1

वृतिका शोध प्रशिक्षुता: अवधि एवं प्रमाणन

  • प्रशिक्षण एवं कौशल इंटर्नशिप की अवधि कम से कम 4 सप्ताह होगी किंतु 2 माह से अधिक नहीं होगी।
  • जिस पर्यवेक्षक से इंटर्न जुड़े हुए हैं, वह उन्हें कार्य / असाइनमेंट सौंपेगा, जिस पर इंटर्न को कार्य करना चाहिए एवं प्रस्तुत करने के लिए एक रिपोर्ट तैयार करनी चाहिए।
  • इंटर्नशिप के सफल समापन के संबंध में पर्यवेक्षक एवं संबंधित विभाग के प्रमुख द्वारा इंटर्नशिप के संतोषजनक समापन पर तथा असाइनमेंट रिपोर्ट जमा करने पर इंटर्न को एक प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा।
  • अपेक्षित अवधि पूरी नहीं करने वाले इंटर्न को कोई प्रमाण पत्र जारी नहीं किया जाएगा।

 

भारत में पुलिस सुधार: मुद्दे, सिफारिशें, सामुदायिक पुलिसिंग उद्यमी भारत कार्यक्रम भारत-आईआरईएनए सामरिक साझेदारी समझौता हीट वेव्स 2022: परिभाषा, कारण, प्रभाव एवं आगे की राह
अभ्यास-हाई स्पीड एक्सपेंडेबल एरियल टारगेट (हीट) आपदा रोधी अवसंरचना के लिए गठबंधन (सीडीआरआई): कैबिनेट ने सीडीआरआई को ‘अंतर्राष्ट्रीय संगठन’ के रूप में वर्गीकृत करने की स्वीकृति प्रदान की  ‘शून्य-कोविड’ रणनीति लिविंग लैंड्स चार्टर
संपादकीय विश्लेषण- समय का सार वैश्विक अवसंरचना एवं निवेश के लिए साझेदारी इंडिया केम-2022 दल बदल विरोधी कानून- विधायकों की निरर्हता

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.