UPSC Exam   »   UNGA meet on Russia Ukraine War   »   Russia Ukraine War

रूस संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) से निलंबित

रूस यूएनएचआरसी से निलंबित- यूपीएससी परीक्षा के लिए प्रासंगिकता

  • जीएस पेपर 2: अंतर्राष्ट्रीय भारत के हितों पर विकसित एवं विकासशील देशों की नीतियों तथा राजनीति का प्रभाव।
    • महत्वपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय संस्थान, एजेंसियां एवं मंच- उनकी संरचना, अधिदेश।

रूस संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) से निलंबित_40.1

समाचारों में रूस यूएनएचआरसी से निलंबित

  • हाल ही में, संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूनाइटेड नेशंस जनरल असेंबली/यूएनजीए) ने एक प्रस्ताव अंगीकृत किया, जिसमें रूस को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) से निलंबित करने का आह्वान किया गया।
  • भारत “सार एवं प्रक्रिया” के कारण मतदान से दूर रहा। भारतीय प्रतिनिधि ने कहा कि भारत ने यदि किसी पक्ष का चयन किया है तो वह शांति का पक्ष है एवं यह हिंसा को तत्काल समाप्त करने के लिए है।”

 

रूस पर यूएनजीए का प्रस्ताव

  • प्रस्ताव: UNGA प्रस्ताव, ‘मानवाधिकार परिषद में रूसी संघ की सदस्यता के अधिकारों का निलंबन’ (सस्पेंशन ऑफ द राइट ऑफ मेंबरशिप ऑफ द रशियन फेडरेशन इन द ह्यूमन राइट्स काउंसिल), उन देशों के एक समूह द्वारा प्रस्तावित किया गया था जिनमें यूक्रेन, यू.एस., यूरोपीय संघ तथा अनेक लैटिन अमेरिकी देश सम्मिलित थे।
  • अंगीकृत किए जाने की आवश्यकता: रूस को निलंबित करने पर यूएनजीए के प्रस्ताव में उपस्थित पता मतदान के लिए मतदान करने वालों के दो-तिहाई बहुमत की आवश्यकता थी।
    • मतदान से अनुपस्थित रहने वालों की गिनती ‘ उपस्थित एवं मतदान करने वालों’ की संख्या में नहीं होती है।

 

रूस को निलंबित करने वाले UNGA प्रस्ताव पर मतदान

  • पक्ष में मतदान: यूएनएचआरसी से रूस को निलंबित करने के संयुक्त राष्ट्र महासभा के प्रस्ताव को 193 सदस्यीय संयुक्त राष्ट्र महासभा में मतदान करने वालों में से दो-तिहाई बहुमत प्राप्त हुआ, जिसके पक्ष में 93 देशों ने मतदान किया।
    • यूक्रेन, यू.एस., यूरोपीय संघ तथा अनेक लैटिन अमेरिकी देशों ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया।
  • UNGA प्रस्ताव के विरोध में मतदान: 24 सदस्य देशों ने UNHRC से रूस की सदस्यता समाप्त करने के UNGA प्रस्ताव के विरोध में मतदान किया।
    • रूस, चीन, क्यूबा, ​​​​उत्तर कोरिया, ईरान, सीरिया तथा वियतनाम ने इसके विरुद्ध मतदान करने वालों में से थे।
  • मतदान से अनुपस्थिति: यूएनएचआरसी से रूस को निलंबित करने पर यूएनजीए के मतदान से 58 देशों ने  मतदान से स्वयं को अलग रखा। मतदान से अनुपस्थित रहने वालों में भारत, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका, मेक्सिको, मिस्र, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, जॉर्डन, कतर, कुवैत, इराक, पाकिस्तान, सिंगापुर, थाईलैंड, मलेशिया, इंडोनेशिया तथा कंबोडिया सम्मिलित हैं।

रूस संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) से निलंबित_50.1

रूस यूक्रेन संघर्ष के संदर्भ में यूएनएचआरसी में भारत की प्रतिक्रिया

रूस-यूक्रेन युद्ध पर यूएनएचआरसी में मतदान से भारत की यह तीसरी अनुपस्थिति थी। तीनों का उल्लेख नीचे किया गया है-

  • पहला: भारत ने मतदान से स्वयं को अनुपस्थित रखा जो यूक्रेन में रूस के मानवाधिकारों के उल्लंघन पर जांच आयोग के गठन से संबंधित था।
  • दूसरा: रूस-यूक्रेन संघर्ष में मानवाधिकारों तथा अंतरराष्ट्रीय कानून के उल्लंघन की जांच के लिए भारत ने  पुनः यूएनएचआरसी के मतदान में भाग नहीं लिया।
  • तीसरा: भारत यूएनएचआरसी से रूस को निलंबित करने पर हाल ही में यूएनजीए के प्रस्ताव पर मतदान से स्वयं को अलग रखा।

 

भारत में प्रवासी श्रमिक: मुद्दे, सरकारी कदम, सिफारिशें सखी-वन स्टॉप सेंटर उत्तराखंड में प्रारंभ की गई प्रायोगिक-एक स्वास्थ्य परियोजना संपादकीय विश्लेषण: जटिल भारत-नेपाल संबंध की मरम्मत
स्वच्छ ऊर्जा मंत्रिस्तरीय (सीईएम) | भारत CEM के आधिकारिक बैठक की मेजबानी कर रहा है विमुक्त समुदायों का कल्याण कृषि निर्यात 50 अरब अमेरिकी डॉलर के ऐतिहासिक उच्च स्तर को छुआ भारत में जैव विविधता हॉटस्पॉट 
लोकसभा अध्यक्ष मिशन इंटीग्रेटेड बायोरिफाईनरीज विदेश व्यापार नीति विस्तारित संपादकीय विश्लेषण-  एट ए क्रॉसरोड्स 

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published.