UPSC Exam   »   National Emblem of India   »   Har Ghar Tiranga Campaign

हर घर तिरंगा अभियान

हर घर तिरंगा अभियान- यूपीएससी परीक्षा के लिए प्रासंगिकता

  • जीएस पेपर 1: भारतीय इतिहास- भारतीय संस्कृति प्राचीन से आधुनिक समय तक कला रूपों, साहित्य एवं वास्तुकला के मुख्य पहलुओं को समाहित करेगी।

हर घर तिरंगा अभियान_40.1

हर घर तिरंगा अभियान चर्चा में क्यों है

  • हाल ही में, सरकार ने घोषणा की कि सभी डाकघर हर घर तिरंगा अभियान के तहत राष्ट्रीय ध्वज के विक्रय एवं वितरण की सुविधा के लिए स्वतंत्रता दिवस 2022 से  पूर्व अवकाश पर कार्य करेंगे।
  • सार्वजनिक अवकाश अर्थात 7, 9 और 14 अगस्त 2022 को डाकघरों में कम से कम एक काउंटर के माध्यम से राष्ट्रीय ध्वज के विक्रय हेतु विशेष व्यवस्था की जाएगी।
    • सभी सुपुर्दगी डाकघरों में राष्ट्रीय ध्वज के वितरण की भी विशेष व्यवस्था की जाएगी।

 

हर घर तिरंगा अभियान

  • हर घर तिरंगाअभियान के बारे में: ‘हर घर तिरंगा’ अभियान आजादी का अमृत महोत्सव के तत्वावधान में लोगों को तिरंगा घर लाने एवं भारत की आजादी के 75 वें वर्ष को चिह्नित करने के लिए झंडोत्तोलन हेतु (इसे फहराने के लिए) प्रोत्साहित करने के लिए एक अभियान है।
    • हर घर तिरंगा अभियान के तहत सरकार नागरिकों से आग्रह कर रही है कि वे 13 से 15 अगस्त के मध्य अपने घरों में राष्ट्रीय ध्वज प्रदर्शित करें अथवा झंडोत्तोलन करें।
  • उद्देश्य: पहल के पीछे का विचार लोगों के दिलों में देशभक्ति की भावना को जागृत करना एवं भारतीय राष्ट्रीय ध्वज के बारे में जागरूकता को प्रोत्साहित करना है।
  • आयोजक मंत्रालय: संस्कृति मंत्रालय के समग्र पर्यवेक्षण एवं मार्गदर्शन में हर घर तिरंगा अभियान का आयोजन किया जा रहा है।
  • महत्व: स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष में एक राष्ट्र के रूप में ध्वज को सामूहिक रूप से घर लाना इस प्रकार न केवल तिरंगे से व्यक्तिगत संबंध का एक कार्य बल्कि राष्ट्र-निर्माण के प्रति हमारी प्रतिबद्धता का प्रतीक भी बन जाता है।

 

राष्ट्रीय ध्वज को कैसे मोड़ें?

संस्कृति मंत्रालय ने एक ट्वीट के जरिए राष्ट्रीय ध्वज को सही ढंग से मोड़ने के लिए चार चरण भी निर्धारित किए।

  • चरण 1: भारतीय राष्ट्रीय ध्वज को क्षैतिज रूप से रखा जाना चाहिए।
  • चरण 2: केसरिया एवं हरे रंग की पट्टियों को सफेद पट्टी के नीचे मोड़ा जाना चाहिए।
  • चरण 3: इसके पश्चात सफेद पट्टी को इस प्रकार से मोड़ना होगा कि केवल अशोक चक्र केसरिया (भगवा)  एवं हरे रंग की पट्टियों के साथ दिखाई दे।
  • चरण 4: मुड़े हुए भारतीय राष्ट्रीय ध्वज को सुरक्षित स्थान पर रखने के लिए इसे बाहों या हथेलियों में ले जाने की आवश्यकता होती है।

 

राष्ट्रीय ध्वज को नियंत्रित करने वाले नियम एवं विनियम

  • ‘भारतीय ध्वज संहिता 2002’ एवं राष्ट्रीय सम्मान के अपमान की रोकथाम अधिनियम, 1971 भारत में राष्ट्रीय ध्वज के उपयोग, प्रदर्शन तथा झंडोत्तोलन को नियंत्रित करता है।

 

राष्ट्रीय ध्वज के निर्माण हेतु किस सामग्री का उपयोग किया जा सकता है?

  • भारतीय ध्वज संहिता, 2002 को 30 दिसंबर, 2021 के आदेश द्वारा संशोधित किया गया था एवं पॉलिएस्टर से निर्मित ध्वज या मशीन से बने राष्ट्रीय ध्वज को अनुमति दी गई है।
  • अब, राष्ट्रीय ध्वज हाथ से काते गए एवं हाथ से बुने हुए या मशीन से बने,सूती/पॉलिएस्टर/ऊन/रेशम/खादी की पट्टी से बनाया जाएगा।

हर घर तिरंगा अभियान_50.1

राष्ट्रीय ध्वज कहाँ एवं कब फहराया जा सकता है?

  • भारतीय ध्वज संहिता के परिच्छेद (पैराग्राफ) 2.2 के अनुसार, सार्वजनिक, निजी संगठन या शैक्षणिक संस्थान का कोई सदस्य राष्ट्रीय ध्वज की गरिमा एवं सम्मान के अनुसार सभी दिनों या अवसरों पर राष्ट्रीय ध्वज फहरा सकता है / प्रदर्शित कर सकता है।
  • 20 जुलाई, 2022 को एक आदेश के माध्यम से एक संशोधन ने राष्ट्रीय ध्वज को दिन एवं रात में जनता के घर पर फहराने या खुले में प्रदर्शित करने की अनुमति प्रदान की।
    • इस संशोधन से पूर्व केवल सूर्योदय से सूर्यास्त तक तिरंगा फहराने की अनुमति थी।

 

रामसर स्थल- 10 नई भारतीय आर्द्रभूमि सूची में जोड़ी गईं  महाद्वीपीय अपवाह सिद्धांत (कॉन्टिनेंटल ड्रिफ्ट थ्योरी)  भारत की उड़ान: संस्कृति मंत्रालय एवं गूगल की एक पहल  तंग मौद्रिक नीति
भारत-मॉरीशस सीईसीपीए संपादकीय विश्लेषण- स्टीकिंग टू कमिटमेंट्स, बैलेंसिंग एनर्जी यूज एंड क्लाइमेट चेंज इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ हेरिटेज’ (आईआईएच) संपादकीय विश्लेषण- सोप और वेलफेयर डिबेट
उत्तर पूर्वी अंतरिक्ष अनुप्रयोग केंद्र (एनईएसएसी) आसियान एवं भारत यूएनएफसीसीसी में भारत का अद्यतन राष्ट्रीय रूप से निर्धारित योगदान (एनडीसी) ग्लोबल इंगेजमेंट स्कीम: भारतीय भारतीय लोक कला एवं संस्कृति को प्रोत्साहित करना

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published.