Latest Teaching jobs   »   Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam :...

Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam : 22th October 2018(Solution)

Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam : 22th October 2018(Solution)_30.1
हिंदी भाषा CTET परीक्षा का एक महत्वपूर्ण भाग है इस भाग को लेकर परेशान होने की जरुरत नहीं है .बस आपको जरुरत है तो बस एकाग्रता की. ये खंड न सिर्फ CTET Exam (परीक्षा) में एहम भूमिका निभाता है अपितु दूसरी परीक्षाओं जैसे UPTET, KVS,NVS DSSSB आदि में भी रहता है, तो इस खंड में आपकी पकड़, आपकी सफलता में एक महत्वपूर्ण कदम साबित हो सकती है.TEACHERS ADDA आपके इस चुनौतीपूर्ण सफ़र में हर कदम पर आपके साथ है।
Q1. ‘मेरे सामने से हट जा।’ इस वाक्य में संबंध बोधक अव्यय है-
(a) मेरे
(b) सामने से 
(c) हट
(d) जा
Q2. करो या मरो। इस वाक्य की पहचान करें।
(a) संयोजक
(b) विभाजक
(c) विकल्पसूचक
(d) इनमे से कोई नही
Q3. ‘काशी नागरी प्रचारिणी सभा’ की स्थापना किस वर्ष हुई ?
(a) 1893 ई.
(b) 1900 ई.
(c) 1903 ई.
(d) 1905 ई.
Q4. ‘प्रेमसागर’ किसकी रचना है?
(a) मुंशी सदा सुखलाल
(b) सदल मिश्र
(c) लल्लूलाल जी
(d) रामप्रसाद निरंजनी
Q5. ‘कुन्द इन्दु सम देह, उमा रमन करुणा अयन’ में कौन-सा अलंकार है?
(a) शलेष
(b) उपमा
(c) अनुप्रास
(d) रूपक
Q6. जहाँ बिना कारण के कार्य का होना पाया जाए वहाँ कौन सा अलंकार होता है?
(a) विरोधाभास
(b) विशेषोक्ति
(c) विभावना
(d) भ्रांतिमान
Q7. ‘निःस्पृह’ का अर्थ है—
(a) जो स्पर्श रहित हो 
(b) जो इच्छा रहित हो 
(c) जो प्रेम रहित हो 
(d) जो प्रेरणावान हो 
Q8. ‘जो एक स्थान पर टिक कर नहीं रहता’ वाक्य के लिए एक शब्द कौन-सा है? 
(a) असंतुलित
(b) अडिग 
(c) यायावर
(d) गतिशील 
Q9. हिन्दी खड़ी बोली किस अपभ्रंश से विकसित हुई है?
(a) मागधी
(b) अर्द्धमागधी
(c) शौरसेनी
(d) पैशाची 
Q10. हिन्दी का प्रथम महाकाव्य किसे माना जाता है-
(a) पद्मावत
(b) रामचरितमानस
(c) पृथ्वीराजरासो
(d) कोई नहीं
उत्तरतालिका
S1. Ans.(b)
S2. Ans.(b)
S3. Ans.(a)
S4. Ans.(c) सन 1567 ई, में चतर्भुज मिश्र ने ब्रजभाषा में दोहा-चौपाई में भागवत के दशम स्कन्ध का अनुवाद किया था। उसी के आधार पर लल्लूलाल ने 1803 ई. में जॉन गिलक्राइस्ट के आदेश से फोर्ट विलियम कॉलेज के विद्यार्थियों के पढ़ने के लिए ‘प्रेमसागर’ की रचना की।
S5. Ans.(c)
S6. Ans.(c) विरोधाभाष अलंकार- जब किसी वस्तु का वर्णन करने पर विरोध न होते हुए भी विरोध का आभाष हो वहाँ पर विरोधाभास अलंकार होता है।
विशेषोक्ति अलंकार- काव्य में जहाँ कार्य सिद्धि के समस्त कारणों के विद्यमान रहते हुए भी कार्य न हो वहाँ पर विशेषोक्ति अलंकार होता है।
विभावना अलंकार- जहाँ पर कारण के न होते हुए भी कार्य का हुआ जाना पाया जाए वहाँ पर विभावना अलंकार होता है।
भ्रांतिमान अलंकार- जब उपमेय में उपमान के होने का भ्रम हो जाये वहाँ पर भ्रांतिमान अलंकार होता है
S7.Ans.(b)
S8. Ans.(c)
S9. Ans.(c)
S10. Ans.(c)
You may also like to read
Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam : 22th October 2018(Solution)_40.1Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam : 22th October 2018(Solution)_50.1
Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam : 22th October 2018(Solution)_60.1