Latest Teaching jobs   »   Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam :...

Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam : 11th October 2018(Solutions)

Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam : 11th October 2018(Solutions)_30.1
हिंदी भाषा CTET परीक्षा का एक महत्वपूर्ण भाग है इस भाग को लेकर परेशान होने की जरुरत नहीं है .बस आपको जरुरत है तो बस एकाग्रता की. ये खंड न सिर्फ CTET Exam (परीक्षा) में एहम भूमिका निभाता है अपितु दूसरी परीक्षाओं जैसे UPTET, KVS,NVS DSSSB आदि में भी रहता है, तो इस खंड में आपकी पकड़, आपकी सफलता में एक महत्वपूर्ण कदम साबित हो सकती है.TEACHERS ADDA आपके इस चुनौतीपूर्ण सफ़र में हर कदम पर आपके साथ है।
निर्देश ( प्रश्न 1-6): निम्नलिखित गद्यांश के आधार पर प्रश्नों के सही विकल्प चुनिये—
शिक्षा जीवन के सर्वांगीण विकास हेतु अनिवार्य है। शिक्षा के बिना मनुष्य विवेकशील और शिष्ट नहीं बन सकता। विवेक से मनुष्य में सही और गलत का चयन करने की क्षमता उत्पन्न होती है। विवेक से ही मनुष्य के भीतर उसके चहुँ ओर नित्य प्रति होते घटनाक्रमों के प्रति एक छिद्रान्वेषी दृष्टिकोण उत्पन्न होता है। शिक्षा ही मानव को मानव के प्रति मानवीय भावनाओं से पोषित करती है।शिक्षा से मनुष्य अपने परिवेश के प्रति जाग्रत होकर कर्तव्यभिमुख हो जाता है। ‘स्व’ से ‘पर’ की ओर अग्रसर होने लगता है। निर्बल की सहायता करना, दुखियों के दुःख दूर करने का प्रयास करना, दूसरों के दु:ख से दु:खी हो जाना और दूसरों के सुख से स्वयं सुख का अनुभव करना जैसी बातें एक शिक्षित मानव में सरलता से देखने को मिल जाती हैं।इतिहास, साहित्य, राजनीतिशास्त्र, समाजशास्त्र, दर्शनशास्त्र इत्यादि पढ़कर विद्यार्थी विद्वान् ही नहीं बनता वरन् उसमें एक विशिष्ट जीवन दृष्टि, रचनात्मकता और परिपक्वता का सृजन भी होता है। शिक्षित सामाजिक परिवेश में व्यक्ति अशिक्षित सामाजिक परिवेश की तुलना में सदैव ही उच्च स्तर पर जीवन यापन करता है।
परन्तु आज शिक्षा का अर्थ बदल रहा है। शिक्षा भौतिक आकांक्षा की साध्य बनती जा रही है। व्यावसायिक शिक्षा के अंधानुकरण में छात्र सैद्धान्तिक शिक्षा से दूर होते जा रहे हैं। रूस की क्रान्ति, फ्रांस की क्रांति, अमेरिकी क्रांति, समाजवाद, पूँजीवाद, राजनीतिक व्यवस्था, सांस्कृतिक मूल्यों आदि की सामान्य जानकारी भी व्यावसायिक शिक्षा ग्रहण करने वाले छात्रों को नहीं है। यह शिक्षा का विशुद्ध रोजगारकरण है। शिक्षा के प्रति इस प्रकार का संकुचित दृष्टिकोण अपनाकर विवेकशील नागरिकों का निर्माण नहीं किया जा सकता।भारत जैसे विकासशील देश में शिक्षा रोजगार का साधन न होकर साध्य हो गई है। इस कुप्रवृत्ति पर अंकुश लगाना अनिवार्य है। जहाँ मानविकी के छात्रों को पत्रकारिता, साहित्य-सृजन, विज्ञापन, जनसम्पर्क इत्यादि कोर्स भी कराए जाने चाहिए ताकि उन्हें रोजगार के लिए न भटकना पड़े वहीं व्यावसायिक कोर्स करने वाले छात्रों को मानविकी के विषय; जैसे–इतिहास, साहित्य, राजनीतिशास्त्र व दर्शन आदि का थोड़ा बहुत अध्ययन अवश्य कराना चाहिए ताकि समाज को विवेकशील नागरिक प्राप्त होते रहें, तभी समाज में सन्तुलन बना रह सकेगा। 
Q1. छिद्रान्वेषी दृष्टिकोण से लेखक का क्या तात्पर्य है?
(a) समन्वय की भावना उत्पन्न होना 
(b) उपयुक्त और अनुपयुक्त का बोध होना 
(c) मानवीयता का विकास होना 
(d) विवेकशीलता का विकास होना
Q2. “शिक्षा ही मानव को मानव के प्रति मानवीय भावनाओं से पोषित करती हैं।” इस कथन के लिए उपयुक्त विकल्प चुनिए 
(a) कटुता 
(b) सहृदयता की भावना का विकास 
(c) विनम्रता की भावना का विकास
(d) घृणा की भावना का विकास 
Q3. शिक्षा से मनुष्य ‘स्व’ से ‘पर’ की ओर अभिगमन करने लगता है, क्यों?
(a) शिक्षा मनुष्य को संवेदनशील बनाती है
(b) शिक्षा से मनुष्य में सेवा भाव उत्पन्न होता है।
(c) शिक्षा मनुष्य को कर्तव्यपरायण बनाती है।
(d) शिक्षा मनुष्य में मानवीय भाव भरती है। 
Q4. वर्तमान शिक्षा भौतिक आकांक्षा की साध्य किस प्रकार बन गई है?
(a) शिक्षा के मात्र व्यावसायिक पक्ष को देखा जा रहा है। 
(b) शिक्षा को मात्र सैद्धान्तिक बनाकर रख दिया गया है
(c) शिक्षा रचनात्मकता और परिपक्वता की सर्जक बन गई है।
(d) शिक्षा को मात्र रोजगार से सम्बद्ध कर दिया गया है। 
Q5. उपर्युक्त गद्यांश का उपयुक्त शीर्षक क्या होगा?
(a) शिक्षा 
(b) शिक्षा का जीवन में महत्व 
(c) शिक्षा का बदलता स्वरूप
(d) सैद्धान्तिक व व्यावसायिक शिक्षा 
Q6. निम्न में से कौन दर्शनशास्त्र का संधि-विच्छेद है—
(a) दर्शन + शास्त्र 
(b) दर्श + शास्त्र 
(c) दर्शनः + शास्त्र 
(d) दर्शन + शास्त्र:
निर्देश ( प्रश्न 7-10): निम्नलिखित प्रश्नों के सही विकल्प चुनिये—
Q7. नीचे लिखे वाक्यों में से कौन-सा वाक्य सर्वाधिक सही है?
(a) यद्यपि तुम अजनबी हो, परंतु मैं तुम्हें अपना मानता हूँ। 
(b) यद्यपि तुम अजनबी हो, मैं तुम्हें ही अपना मानता हूँ। 
(c) यद्यपि तुम अजनबी हो, किन्तु मैं तुमकाही अपना मानता हूँ। 
(d) यद्यपि तुम अजनबी हो, तथापि मैं तुम्हे अपना मानता हूँ
Q8. निम्नांकित में शुद्ध वाक्य है–
(a) तुलसी की कविता में माधुर्यता है
(b) तुलसी की कविता माधुर्यगुण प्रधान है। 
(c) तुलसी कि कविता मे माधुर्यता है। 
(d) तुलसी की कविता मधुराई से पूर्ण है
Q9. निम्न में से अशुद्ध वाक्य पहचानिए–
(a) वह अपना चश्मा भूल गया 
(b) पिताजी ने मुझसे कहा।
(c) तुम तो अपना काम करो
(d) ये सच्चे इन्सान है। 
Q10. निम्नलिखित में कौन-सा वाक्य शुद्ध है?
(a) उसने मुझे पास आने के लिए कहा। 
(b) उसने मुझसे पास आने को कहा। 
(c) उसने मुझे पास आने को कहा
(d) उसने मेरे को पास आने के लिए कहा 
उत्तरतालिका
S1. Ans.(b)
S2. Ans.(b)
S3. Ans.(c)
S4. Ans.(d)
S5. Ans.(b)
S6. Ans.(a)
S7. Ans.(d)
S8. Ans.(a)
S9. Ans.(c)
S10. Ans.(a)
You may also like to read
Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam : 11th October 2018(Solutions)_40.1Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam : 11th October 2018(Solutions)_50.1
Hindi Questions For CTET/KVS/DSSSB/UPTET Exam : 11th October 2018(Solutions)_60.1