Latest Teaching jobs   »   Hindi Questions For CTET Exam :...

Hindi Questions For CTET Exam : 7th September 2018 (Solutions)

Hindi Questions For CTET Exam : 7th September 2018 (Solutions)_30.1
निर्देश(1-5) नीचे दिए गए गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़िए और उस पर आधारित प्रश्नों के उत्तर दीजिए। गद्यांश के अनुसार, दिए गए विकल्पों में से सबसे उपयुक्त विकल्प का चयन कीजिए।
सौर ऊर्जा वह उर्जा है जो सीधे सूर्य से प्राप्त की जाती है। सौर ऊर्जा ही मौसम एवं जलवायु का परिवर्तन करती है। यहीं धरती पर सभी प्रकार के जीवन (पेड़-पौधे और जीव-जन्तु) का सहारा है। वैसे तो सौर उर्जा को विविध प्रकार से प्रयोग किया जाता है, किन्तु सूर्य की उर्जा को विद्युत उर्जा में बदलने को ही मुख्य रूप से सौर उर्जा के रूप में जाना जाता है। सूर्य की उर्जा को दो प्रकार से विद्युत उर्जा में बदला जा सकता है। पहला प्रकाश-विद्युत सेल की सहायता से और दूसरा किसी तरल पदार्थ को सूर्य की उष्मा से गर्म करने के बाद इससे विद्युत जनित्र चलाकर। सूर्य एक दिव्य शक्ति स्रोतशान्त व पर्यावरण सुहृद प्रकृति के कारण नवीकरणीय सौर ऊर्जा को लोगों ने अपनी संस्कृति व जीवन यापन के तरीके के समरूप पाया है। विज्ञान व संस्कृति के एकीकरण तथा संस्कृति व प्रौद्योगिकी के उपस्करों के प्रयोग द्वारा सौर ऊर्जा भविष्य के लिए अक्षय ऊर्जा का स्रोत साबित होने वाली है। भारत में सौर ऊर्जा हेतु विभिन्न कार्यक्रमों का संचालन भारत सरकार के नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा किया जाता है। भारत की घनी आबादी और उच्च सौर आपतन सौर ऊर्जा को भारत के लिए एक आदर्श ऊर्जा स्रोत बनाता है। किंतु सौर ऊर्जा निरंतर खर्चीली है और इस पर भारी निवेश की जरूरत पड़ती है। सौर ऊर्जा का स्‍वरूप अस्थिर है जिससे इसे ग्रिड में समायोजित करना मुश्किल होता है। लोगों की जागरुकता का अभाव, उच्‍च उत्‍पादन लागत तथा वर्तमान ऊर्जा को छोड़ने की सीमाएं एवं पारेषण (ट्रांसमशिन) नेटवर्क को देशभर में सौर ऊर्जा क्षमता के भरपूर दोहन की दि‍शा में मुख्‍य बाधा के रूप में माना गया है। हैंडबुक ऑन सोलर रेडिएशन ओवर इंडिया के अनुसार, भारत के अधिकांश भाग में एक वर्ष में 250-300 दिन धूप निकलने वाले दिनों सहित प्रतिदिन प्रति वर्गमीटर 4-7 किलोवाट घंटे का सौर विकिरण प्राप्त होता है। राजस्थान और गुजरात में प्राप्त सौर विकिरण उड़ीसा में प्राप्त विकिरण की अपेक्षा ज्यादा है। देश में 30-50 मेगावाट/ प्रतिवर्ग किलोमीटर छायारहित खुला क्षेत्र होने के बावजूद उपलब्‍ध क्षमता की तुलना में देश में सौर ऊर्जा का दोहन काफी कम है (जो 31-5-2014 की स्थिति के अनुसार 2647 मेगावाट है)। सौर ऊर्जा, जो रोशनी व उष्मा दोनों रूपों में प्राप्त होती है, का उपयोग कई प्रकार से हो सकता है। सौर उष्मा का उपयोग अनाज को सुखाने, जल उष्मन, खाना पकाने, प्रशीतलन, जल परिष्करण तथा विद्युत ऊर्जा उत्पादन हेतु किया जा सकता है। फोटो वोल्टायिक प्रणाली द्वारा सौर प्रकाश को बिजली में रूपान्तरित करके रोशनी प्राप्त की जा सकती है, प्रशीतलन का कार्य किया जा सकता है, दूरभाष, टेलीविजन, रेडियो आदि चलाए जा सकते हैं, तथा पंखे व जल-पम्प आदि भी चलाए जा सकते हैं। सौर ऊर्जा से गरम जल की प्राप्ति होती है। सौर-उष्मा पर आधारित प्रौद्योगिकी का उपयोग घरेलू, व्यापारिक व औद्योगिक इस्तेमाल के लिए जल को गरम करने में किया जा सकता है। देश में पिछले दो दशकों से सौर जल-उष्मक बनाए जा रहे हैं। लगभग 4,50,000 वर्गमीटर से अधिक क्षेत्रफल के सौर जल उष्मा संग्राहक संस्थापित किए जा चुके हैं जो प्रतिदिन 220 लाख लीटर जल को 60-70° से० तक गरम करते हैं। भारत सरकार का अपारम्परिक ऊर्जा स्रोत मंत्रालय इस ऊर्जा के उपयोग को प्रोत्साहन देने हेतु प्रौद्योगिकी विकास, प्रमाणन, आर्थिक एवं वित्तीय प्रोत्साहन, जन-प्रचार आदि कार्यक्रम चला रहा है। इसके फलस्वरूप प्रौद्योगिकी अब लगभग परिपक्वता प्राप्त कर चुकी है तथा इसकी दक्षता और आर्थिक लागत में भी काफी सुधार हुआ है। वृहद् पैमाने पर क्षेत्र-परिक्षणों द्वारा यह साबित हो चुका है कि आवासीय भवनों, रेस्तराओं, होटलों, अस्पतालों व विभिन्न उद्योगों (खाद्य परिष्करण, औषधि, वस्त्र, डिब्बा बन्दी, आदि) के लिए यह एक उचित प्रौद्योगिकी है। सौर उष्मा द्वारा खाना पकाने से विभिन्न प्रकार के परम्परागत ईंधनों की बचत होती है।
Q1. गद्यांश के अनुसार, सौर उर्जा को मुख्य रूप से किस रूप में जाना जाता है?
(a) नाभिकीय उर्जा का विद्युत उर्जा में रूपान्तरण,
(b) सूर्य की उर्जा का नाभिकीय उर्जा में रूपान्तरण,
(c) सूर्य की उर्जा का ताप में रूपान्तरण,
(d) सूर्य की उर्जा का विद्युत उर्जा में रूपान्तरण, 
Q2. गद्यांश के अनुसार, सूर्य की उर्जा को विद्युत् उर्जा में बदलने का पहला प्रकार, किसकी सहायता से निर्मित होता है?
(a) प्रकाश-सूर्य सेल
(b) प्रकाश-विद्युत सेल
(c) सूर्य-विद्युत सेल
(d) प्रकाश-सौर सेल
Q3. गद्यांश के अनुसार, सौर उर्जा के भरपूर दोहन की दिशा मे मुख्य बाधा के रूप में क्या नहीं है?
(a) लोगों की जागरुकता का अभाव
(b) वर्तमान ऊर्जा को छोड़ने की सीमाएं
(c) उच्‍च उत्‍पादन लागत
(d) सौर उर्जा की अनुपलब्धता
Q4. गद्यांश के अनुसार, किस प्रणाली द्वारा सौर प्रकाश को बिजली में रूपान्तरित करके रोशनी प्राप्त की जा सकती है?
(a) उष्मीय विकिरण प्रणाली 
(b) तापीय उर्जा प्रणाली
(c) फोटो वोल्टायिक प्रणाली
(d) पवन उर्जा प्रणाली
Q5. सौर उष्मा द्वारा खाना पकाने से किस प्रकार के ईंधनों की बचत होती है?
(a) मौजूदा ईंधन
(b) गैर-परम्परागत ईंधन
(c) रासायनिक ईंधन
(d) परम्परागत ईंधन
निर्देश(6-10) नीचे दिए गए प्रत्येक प्रश्न में दो रिक्त स्थान छूटे हुए हैं और उसके पांच विकल्प सुझाए गए हैं। इनमें से कोई दो उन रिक्त स्थानों पर रख देने से वह वाक्य एक अर्थपूर्ण वाक्य बन जाता है। सही शब्द ज्ञात कर उसके विकल्प को उत्तर के रूप में अंकित कीजिए, दिए गए शब्दों में से सर्वाधिक उपयुक्त शब्दों का चयन कीजिए।
Q6. बाघ एक जंगली जानवर है, जिसे भारत में भारत सरकार के द्वारा _______ पशु घोषित किया गया है, यह सबसे निर्दयी जंगली पशु माना जाता है, जिससे सभी _______होते हैं।     
(a) पालतू, जागरूक
(b) राष्ट्रीय, भयभीत
(c) खतरनाक, आतंकित
(d) प्रिय, मोहित
Q7 पर्यावरणीय हानि को रोकने के लिए, पर्यावरणीय ________ का वैश्विकरण या ग्लोबलाइजेशन और बड़े स्तर पर लोगों के बीच पर्यावरणीय ________ फैलाने की आवश्यकता है।
(a) साधनों, योजना
(b) प्रदूषण, स्पर्श
(c) तकनीकियों, जागरुकता
(d) विशेषता, परिवर्तन
Q8. काले धन की समस्या को ________ करना महत्वपूर्ण है क्योंकि यह देश के विकास और प्रगति को काफी हद तक _________ कर रहा है।
(a) प्रभावित, नष्ट
(b) स्वीकार, विकृत
(c) नियंत्रित, बाधित
(d) प्रस्तुत, एकत्रित
Q9. कन्या भ्रूण हत्या की मुख्य वजह बालिका शिशु पर बालक शिशु की ________ है क्योंकि पुत्र आय का मुख्य स्त्रोत होता है जबकि लड़कियां केवल _________ के रुप में होती हैं।
(a) आवश्यकता, सम्मान
(b) प्राथमिकता, उपभोक्ता
(c) इच्छा, परपोषी
(d) जरूरत, भार
Q10. असहिष्णुता किसी अन्य जाति, धर्म और परंपरा से जुड़े ________ के विश्वासों, व्यवहार व प्रथा को मानने की अनिच्छा हैं, ये _________ में उच्च स्तर पर नफरत, अपराधों और भेदभावों को जन्म देता हैं।
(a) स्थान, विश्व
(b) देश, धर्म
(c) परिवेश, राज्य
(d) व्यक्ति, समाज
Solutions:
S1. Ans. (d): सूर्य की उर्जा का विद्युत उर्जा में रूपान्तरण होने के रूप में, सौर उर्जा को जाना जाता है। 
S2. Ans. (b): सूर्य की उर्जा को विद्युत् उर्जा में बदलने का पहला प्रकार, प्रकाश-विद्युत सेल की सहायता से निर्मित होता है।
S3. Ans. (d): सौर उर्जा के भरपूर दोहन की दिशा में मुख्य बाधा के रूप में ‘सौर उर्जा की अनुपलब्धता’ नहीं है।
S4. Ans. (c): ‘फोटो वोल्टायिक प्रणाली’ द्वारा सौर प्रकाश को बिजली में रूपान्तरित करके रोशनी प्राप्त की जा सकती है।
S5. Ans. (d): सौर उष्मा द्वारा खाना पकाने से परम्परागत ईंधनों की बचत होती है।
S6. Ans. (b)
S7. Ans. (c)
S8. Ans. (c)
S9. Ans. (b)
S10. Ans. (d)