Latest Teaching jobs   »   Hindi Questions For All Teaching Exam...

Hindi Questions For All Teaching Exam : 13th February 2019(Solutions)

Hindi Questions For All Teaching Exam : 13th February 2019(Solutions)_30.1
हिंदी भाषा TET परीक्षा का एक महत्वपूर्ण भाग है इस भाग को लेकर परेशान होने की जरुरत नहीं है .बस आपको जरुरत है तो बस एकाग्रता की. ये खंड न सिर्फ CTET Exam (परीक्षा) में एहम भूमिका निभाता है अपितु दूसरी परीक्षाओं जैसे UPTET, KVS,NVS DSSSB आदि में भी रहता है, तो इस खंड में आपकी पकड़, आपकी सफलता में एक महत्वपूर्ण कदम साबित हो सकती है.TEACHERS ADDA आपके इस चुनौतीपूर्ण सफ़र में हर कदम पर आपके साथ है।
GET 5% DISCOUNT on CTET Prime : 

Use This Code TEACH5

Q1. जहाँ उपमेय का निषेध करके उपमान का आरोप किया जाये, वह होता है: 

(a) रूपक अलंकार
(b) उत्प्रेक्षा अलंकार
(c) विशेषेक्ति अलंकार
(d) उपमा अलंकार

Q2. निम्नलिखित में से कौन सादृश्यमूलक अलंकार नहीं है ? 
(a) उपमा 
(b) रूपक 
(c) विशेषेक्ति 
(d) उत्प्रेक्षा 
Q3. किस पंक्ति में ‘अपह्नुति’ अलंकार है ? 
(a) इसका मुख चंद्रमा के समान है। 
(b) चंद्र इसके मुख के समान है। 
(c) इसका मुख ही चंद्र है। 
(d) यह चंद्र नहीं मुख है। 
Q4. ‘रावण सिर सरोज बनवारी।चलि रघुवीर सिली-मुख धारी।’ सिली-मुख में अलंकार हैं: 
(a) श्लेष 
(b) लाटानुप्रास 
(c) वृत्यनुप्रास 
(d) उपमा 
Q5.‘उषा सुनहले तीर बरसती, जयलक्ष्मी सी उदित हुई। इसमें अलंकार हैं: 
(a) मानवीकरण 
(b) दृष्टान्त
(c) सन्देह 
(d) विरोधाभास 
Q6.‘बिनु पर चलै सुनै बिनु काना। कर बिनु कर्म करै विधि नाना। इस चैपाई में अलंकार हैं: 
(a) विषम 
(b) विभावना 
(c) असंगति 
(d) तद्गुण। 
Q7. ‘कुल कानन कुंडल मोर पखा, उर पे बनमाल विराजति है।’प्रस्तुत पंक्तियों में कौन-सा अलंकार है ? 
(a) अनुप्रास 
(b) यमक 
(c) श्लेष 
(d) वक्रोक्ति 
Q8. पूत सपूत तो का धन संचय। पूत कपूत तो धन संचय ।। पूत कपूत तो का धन अलंकार है ? 
(a) लाटानुप्रास 
(b) यमक 
(c) श्लेष 
(d) वक्रोक्ति 
Q9. काली घटा का घमण्ड घटा, नभ मण्डल तारक वृंद खिले। प्रस्तुत पंक्तियों में कौन-सा अलंकार है ? 
(a) लाटानुप्रास 
(b) यमक 
(c) श्लेष 
(d) वक्रोक्ति 
Q10. जो रहीम गति दीप की, कुल कपूत गति सोय। प्रस्तुत पंक्तियों में कौन-सा अलंकार है ? 
(a) लाटानुप्रास 
(b) यमक 
(c) श्लेष 
(d) वक्रोक्ति 
Solutions 
S1. Ans.(a) 
S2. Ans.(c) सादृश्यमूलक अलंकार का आधार किसी न किसी प्रकार (व्यक्ति, वस्तु, भाव, विचार आदि) की समानता होती है. सबसे अधिक व्यापक आधार युक्त सादृश्य मूलक अलंकार का उद्भव किसी व्यक्ति, वस्तु, विचार, भाव आदि का निरूपण करने के लिये समान गुण-धर्म युक्त अन्य व्यक्ति, वस्तु, विचार, भाव आदि से तुलना अथवा समानता बताने से होता है. प्रमुख साधर्म्यमूलक अलंकार उपमा, रूपक, उत्प्रेक्षा, रूपकातिशयोक्ति, पटटीप, भ्रान्ति, संदेह, स्मरण, अपन्हुति, व्यतिरेक, दृष्टान्त, निदर्शना, समासोक्ति, अन्योक्ति आदि हैं 
S3. Ans.(d) अपन्हुति अर्थ है छिपाव। जब किसी सत्य बात या वस्तु को छिपाकर(निषेध) उसके स्थान पर किसी झूठी वस्तु की स्थापना की जाती है,तब अपन्हुति अलंकार होता है। उदाहरण:-“सुनहु नाथ रघुवीर कृपाला, बन्धु न होय मोर यह काला।” 
S4. Ans.(a) 
S5. Ans.(a) 
S6. Ans.(b) 
S7. Ans.(a) 
S8. Ans.(a) 
S9. Ans.(b) 
S10. Ans.(c)



Share Your KVS Interview Experience With Us On blogger@adda247.com


Hindi Questions For All Teaching Exam : 13th February 2019(Solutions)_40.1Hindi Questions For All Teaching Exam : 13th February 2019(Solutions)_50.1Hindi Questions For All Teaching Exam : 13th February 2019(Solutions)_60.1